बाघ ने बछड़े को बनाया निवाला, कुरुमपल्ली की घटना

    गड़चिरोली. अहेरी तहसील के वनपरिक्षेत्र कार्यालय पेरमिली अंतर्गत आनेवाले कुरुमपल्ली- कोडेकसा जंगल परिसर में बाघ ने हमला कर बछडे को मौत के घाट उतारने की घटना मंगलवार को घटी होकर उक्त मामला बुधवार को उजागर हुा. इसी बिच इस परिसर में फिर से बैल का पिछा करते हुए बाघ दिखाई देने से कुरुमपल्ली बिट में बाघ की दहशत कायम है. 

    पेरमिली से 15 किमी दूरी पर स्थित कुरुमपल्ली-कोडेकसा जंगल परिसर में मवेशी चराई कर रहे थे. इस दौरान घात लगाकर बैठे बाघ ने बछडे पर हमला किया.

    दुसरे दिन इसी जंगल परिसर में मवेशियों की चराई करनेवाले चारवाहे को बछडा मृत अवस्था में दिखाई दिया. ऐसे में फिर से बाघ ने जंगल में चरनेवाले बैल का पिछा किया. किंतू समय पर नागरिकों द्वारा चिल्लाने से बाघ जंगल परिसर में भाग गया. साथ ही उक्त मार्ग से मार्गक्रमण करनेवाले अनेक नागरिकों को बाघ का दर्शन होने से इस परिसर के नागरिकों में दहशत निर्माण हुई है. 

    वनकर्मचारियों ने लिए बाघ के पगमार्क

    बाघ दिखाई देने की जानकारी वनविभाग को मिलते ही पेरमिली वनपरिक्षेत्र के येरमनार के क्षेत्र सहाय्यक एम. के. तिम्मा ने घटनास्थल पर भेट दी. मृतक बछडे का पंचनामा करते हुए घटनास्थल पर पाए गए बाघ के पगमार्क लिए गए. उक्त परिसर में बाघ का संचार कायम होने ने नागरिकों को जंगल में न जाने का आह्वान वनविभाग ने किया है.