आदिवासी ही देश के मुलनिवासी; राकां के राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद पवार का कथन

    •  देसाईगंज में सम्मेलन संपन्न 

    गड़चिरोली: आदिवासीबहुल जिले के रूप में जिले की देश में पहचान है. यहां की समस्याएं ध्यान में लेकर विकास संदर्भ में अधिक ध्यान देना है. आदिवासी समाज की युवा पिढ़ी विभिन्न क्षेत्र में सफल कैसे होगी, इसके लिए सरकार ने योजनाएं बनाई है. उसपर अमल कना है. उस दृष्टि से यह जिला काफी महत्वपूर्ण है.

    वनवासी यह शब्द आदिवासीयों को मंजूर नहीं है. जिसेस आदिवासीयों को वनवासी न कहें. आदिवासी यह सहीं अर्थ से देश के मुलनिवासी है, ऐसा कथन राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद पवार ने किया. 

    देसाईगंज के तहसील क्रिडा संकुल मैदान में आज 18 नवंबर को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की ओर से आयोजित भव्य किसान, खेतमजदूर, कार्यकर्ता सम्मेलन में वे बोल रहे थे. इस समय पूर्व केंद्रीय उड्डाण मंत्री प्रफुल्ल पटेल, केंद्रीय राज्य मंत्री सुबोध मोहिते, पूर्व सांसद मधुकर कुकडे, विधायक धर्मरावबाबा आत्राम, जिप सदस्य भाग्यश्री आत्राम, अर्जुनी/मोरगांव के विधायक मनोहर चंद्रिकापुरे, तूमसरचे के विधायक राजू कारेमोरे, पूर्व विधायक हरिराम वरखडे, पूर्व न्यायाधिश ज्ञानदेव परशुरामकर, पूर्व विधायक राजेंद्र जैन, सुनील फुंडे, प्रविण कुंटे, श्रीकांत शिवणकर, रूतूराज हलगेकर, जगदीश पंचबुद्धे, वंदना आवले, गंगाधर परशुरामकर, रमेश बंग आदि उपस्थित थे. 

    आगे संबोधित करते हुए शरद पवार ने कहां कि, वनसंपदा देश में महत्वपूर्ण है. आदिवासी जल, जंगल, जमिन का संवर्धन करता है. देश में जितने जल प्रकल्प हुए, उसमें आदिवासीयों की जमिन गई. आदिवासी क्षेत्र में जलसंग्रहण हुआ और देश के अन्य क्षेत्र में के लोगों को इसका लाभ मिला. आदिवासी सहीं अर्थ में बुनियादी जरूरतों का जतन करने की बात भी पवार ने इस समय कहीं. इस दौरान प्रफुल पटेल ने मार्गदर्शन में कहां कि, झाडीपट्टी के 80 प्रश नागरिक खेती पर निर्भर है. जिससे किसानों के धान को बोनस निश्चित ही मिलेगा, ऐसा आश्वासन दिया.

    इस दौरान विधायक धर्मरावबाबा आत्राम ने भी संबोधित करते हुए कहां कि, आगामी चुनाव में जिप पर राकां का परचम लहराने का संकल्प करते हुए आरमोरी विस में राकां का उम्मीदवार चुनकर लाने का आह्वान भी किया. कार्यक्रम की प्रस्तावना राकां जिलाध्यक्ष रविंद्र वासेकर ने रखी. संचालन सुरेंद्र अलोणे ने किया, आभार युनूस शेख ने माना. कार्यक्रम में जिलेभर से हजारों किसान, खेतमजदूर, राकां कार्यकर्ते उपस्थित थे.    

    अनेक भाजपा पदाधिकायों का राकां प्रवेश 

    भाजपा के जिला उपाध्यक्ष तथा पूर्व कृषि सभापती नाना नाकाडे समेत भाजपा के कुरखेड़ा तहसील के गोठणगांव के उपसरपंच तथा पूर्व भाजपा तहसील अध्यक्ष राम लांजेवार समेत सरंपच संतोष हिचामी, आतेष चव्हारे, किशोर गावडे, उज्वला रायसिडाम, विनोद कोरेटी, युषुफ पठाण, सुभाष नैताम इनके साथ भाजपा के सैंकड़ों कार्यकर्ताओं ने शरद पवार के उपस्थिती में राकां में प्रवेश किया.