ग्रापं चुनाव के कार्य से कर्मचारियों को हटाएं – तहसील मुख्याध्यापक संघ ने तहसीलदार को सौंपा ज्ञापन

Loading

चामोर्शी: तहसील के ग्रामपंचायत चुनाव के कार्य के लिए मुख्याध्यापक व लिपिक, परिचर इनकी जानकारी तहसील कार्यालय प्रशासन ने मंगाई है. जिसके तहत स्कूलों ने जानकारी तहसील कार्यालय प्रशासन की ओर दी है. जिससे उक्त चुनाव कार्य से मुख्याध्यापक, लिपिक व परिचर को हटाएं ऐसी मांग तहसील मुख्याध्यापक संघ ने तहसीलदार को सौंपे ज्ञापन से की है. 

ज्ञापन में कहां है कि,  तहसील के कुछ निजी  माध्यमिक व उच्च माध्यमिक स्कूलों के सभी कर्मचारियों की जानकारी ग्रामपंचायत चुनाव कार्य हेतु तहसील प्रशासन ने मंगाई है. जिसके तहत स्कूलों ने जानकारी दी है. मात्र फिलहाल 10 वीं व 12 वी बोर्ड परीक्षा का आवेदन भरना शुरू है. वहीं छात्रावृत्ती आवेदन आदि कालमर्यादा के कार्य तथा सरकार द्वारा मंगाए जानेवाली जानकारी समय पर देना, वेतन देयक पेश करना व प्रशासकीय कार्य मुख्याध्यापक, लिपिकों को नितदीन करनी पड रहे है.

वहीं कायालय व स्कूल की सफाई करने के लिए परिचर को स्कूल में होना अनिवार्य है. फिलहाल तहसील में 193 जिाला परिषद स्कूल है. जो बंद है. 50 निजी स्कूल व अन्य विभाग के कर्मचारी उपलब्ध होकर भी केवल चुनाव कार्य के लिए समय पर उचित जानकारी पेश करते है. उन्ही स्कूलों के संपूर्ण कर्मचारी नितदिन चुनाव कार्य पर लगाए जाते है. मात्र जो जानकारी नहीं देते है, उन स्कूलों के कर्मचारियों को चुनाव कार्य से हटाया जाता है. जिससे असली जानकारी देनेवाले स्कूलों पर अन्याय हो रहा है.

जिससे चुनावी कार्य से मुख्याध्यापक, लिपिक व परिचर को हटाएं, ऐसी मांग ज्ञापन से की गई है. इस समय नायब तहसीलदार दिलीप दुधबले को ज्ञापन सौंपते समय तहसील मुख्याध्यापक संघ के अध्यक्ष महेश तुमपल्लीवार, जिला मुख्याध्यापक संघ के उपाध्यक्ष संजय भांडारकर, कोषाध्यक्ष बिधान बेपारी, सहसचिव अशोक वाकुडकर, जे. के. मेश्राम, के. पी. भालेराव, ए. एस. दडमल उपस्थित थे.