75 हजार विद्यार्थियों के गणवेश के लिए मिले 2.26 करोड़, हर एक विद्यार्थियों को मिलेगा एक गणवेश

    गोंदिया. नि:शुल्क गणवेश योजना से शासकीय स्थानीय स्वराज्य संस्थाओं की शाला में कक्षा 1ली से 8वीं में शिक्षा लेने वाले सभी अनुसूचित जाति के विद्यार्थी, अनुसूचित जमाति के विद्यार्थी तथा बीपीएल सूची वाले विद्यार्थियों को गणवेश दिए जाते है.

    समग्र शिक्षा वार्षिक कार्य योजना व ब्यौरे के अनुसार सन 2021-22 के लिए भारत सरकार ने जिले के 75 हजार 416 विद्यार्थियों को क्रमश: एक गणवेश के लिए 2 करोड़ 26 लाख 24 हजार 800 रु. दिए है. यह पैसे समग्र शिक्षा अभियान ने शालाओं के खाते में डाल दिया है. समग्र शिक्षा अंतर्गत गणवेश के लिए राज्य में 36 लाख 7 हजार 292 विद्यार्थियों को प्रति गणेवश 300 रु. अनुसार दो गणवेश की खरीदी करने 600 रु. प्रति विद्यार्थी दिए जाते है.

    जिले में गणवेश के लिए 75 हजार 416 विद्यार्थी पात्र है. गणवेश योजना का प्रावधान शाला व्यवस्थापन समिति स्तर से शाला व्यवस्थापन समिति की मंजूरी से खर्च किया जाएगा. इस योजना के लाभ से कोई भी वंचित नहीं रहेगा. इसका ध्यान रखे. शाला व्यवस्थापन समितियों को अनुदान वितरण में विलंब न हो इसके लिए अनुदान जिला स्तर से सीधे शाला व्यवस्थापन समिति को वितरित किया.

    उन विद्यार्थियों को गणवेश का लाभ नहीं

    राज्य शासन के सामाजिक न्याय विभाग, आदिवासी विभाग, अल्प संख्याक विभाग के माध्यम से अल्प संख्याक विद्यार्थियों के लिए गणवेश या शासन मान्य छात्रालय के विद्यार्थियों को गणवेश का लाभ दिया जा रहा है. जिससे ऐसे लाभार्थियों को समग्र शिक्षा अंतर्गत गणवेश योजना का लाभ नहीं दिया जाएगा. गणवेश पूर्ति के संबंध में संपूर्ण अधिकार संबंधित शाला की शाला व्यवस्थापन समिति को है.

    गणवेश के लिए तहसील स्तर पर निधि का वितरण

    जिप के माध्यम से विद्यार्थियों को गणवेश के लिए तहसील स्तर पर इस तरह निधि का वितरण किया गया है. इसमें अर्जुनी मोरगांव 8341 विद्यार्थी के लिए 25 लाख 2 हजार 300 रु., आमगांव 7575 विद्यार्थी 22 लाख 72 हजार 500 रु., देवरी 7,254 विद्यार्थी 21 लाख 76 हजार 200 रु., गोंदिया 19,127 विद्यार्थी 5 करोड 73 लाख 81 हजार 100 रु., गोरेगांव 7651 विद्यार्थी 22 लाख 95 हजार 300 रु., सालेकसा 7028 विद्यार्थी 21 लाख 08 हजार 400 रु., सडक अर्जुनी 7692 विद्यार्थी 23 लाख 07 हजार 600 रु. व तिरोड़ा 10748 विद्यार्थी 32 लाख 24 हजार 400 रु. का समावेश है.

    इस संबंध में जिप के समग्र शिक्षा अभियान के सहायक कार्यक्रम अधिकारी दिलीप बघेले के अनुसार शासन ने 75 हजार विद्यार्थियों के लिए निधि मंजूर की है. लेकिन फिलहाल एक गणवेश के पैसे दिए है. दूसरे गणवेश की निधि आने पर तत्काल वह निधि शाला व्यवस्थापन समिति के खातों में डाली जाएगी. हर एक विद्यार्थी को दो गणवेश दिए जाएंगे.