राष्ट्रीय महामार्ग पर डकैती कर फरार होने वाले 5  गिरफ्तार, 22 लाख 23 हजार रु. का माल जब्त

    गोंदिया. जिले के प्रमुख राष्ट्रीय महामार्ग क्र. 6 पर डकैती  कर फरार होने वाले 5 आरोपियों को पुलिस ने फिल्मी स्टाईल से पीछा कर 22 लाख 23 हजार रु. के माल सहित 2 घंटे में गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है.

    यह घटना 15 सितंबर को शाम 4 बजे देवरी स्थित मिलन ढाबे के निकट घटी. बताया जा रहा है कि इस ढाबे के निकट एक सफेद रंग की टाटा कंपनी का जेस्टा वाहन क्रमांक सीजी 07 बीके 5180 आया और उसमें बैठे लोगों ने संकेत देकर ट्रक रूकवाया. इसके बाद जेस्टा वाहन के एक व्यक्ति ने ट्रक में चढ़कर   चाबी निकाली व  ट्रक चालक को निचे उतार दिया गया.

    इस समय ट्रक चालक ने पुछा की आप कौन हो व  ट्रक क्यों रोक दिया. इस पर उन्होंने बताया कि हम गाड़ी सीज करने वाले है. लेकिन ट्रक का फायनेंस इस्टालमेंट 5 सितंबर 2021 को भरा होने से चालक को संदेह हुआ. जिससे उसने ट्रक मालिक के पुत्र को फोन लगाया. इस दौरान ट्रक चालक से मारपीट कर उसका मोबाइल छिन लिया गया. इसी समय ट्रक में बैठे 2 मजदूरों के मोबाइल भी छिन लिए गए.  इसमें से एक आरोपी ट्रक अपने कब्जे में लेकर मजदूरों सहित छत्तीसगढ़ की  ओर निकल गया. इसी तरह बाकी के आरोपी ट्रक चालक को जेस्टा वाहन में बिठाकर ट्रक के पीछे निकल गए. इसी बीच ट्रक मालिक ने चालक को फोन लगाया तो वह फोन नहीं उठा रहा था.

    दोनों मजदूरों के फोन बंद होने से उसे संदेह हो गया. जिससे उसने देवरी में रहने वाले भाई नियाज कुरेशी को बताया. इसके बाद तत्काल देवरी पुलिस को जानकारी दी गई. सुचना मिलते ही देवरी  के थानेदार सिंगनजुडे ने जिला पुलिस अधीक्षक विश्व पानसरे को घटना से अवगत कराया. उनके मार्गदर्शन में  तत्काल  पुलिस दल के साथ ट्रक की खोज   के लिए छत्तीसगढ की ओर रवाना हो गए. छत्तीसगढ में चिचोला गांव के आगे उन्हें वहीं ट्रक जाते दिखाई दिया.  उसे रोकने का प्रयास किया गया  लेकिन  वह भागने का प्रयास करने लगा. ट्रक  के साथ साथ जा रहा जेस्टा वाहन भी संदिग्ध होने से ट्रक व जेस्टा वाहन को बड़ी   जद्दोजहद के साथ रोककर उन्हें निकट के ढाबे पर ले जाया गया.

    इसके बाद पुलिस स्टेशन चिचोला के थानेदार को जानकारी देकर छत्तीसगढ़ पुलिस की मदद से ट्रक व जेस्टा वाहन व उसमें सवार आरोपियों को हिरासत में लिया गया. पुलिस  उन्हें देवरी लेकर आ गई. जहां  फिर्यादी मध्यप्रदेश के सिवनी निवासी इरशाद मो.फारूख कुरेशी (28) की शिकायत पर मामला दर्ज किया गया और  5 आरोपियों को हिरासत में लिया गया जिनमें शुभम सोनकर (29), विशाल कुशवाह (22), रोशन सिंग (25), करण सिंग (25) व लुकेश सिंग (24) सभी छत्तीसगढ़ के भिलाई निवासियों का समावेश है. इसी तरह पुलिस ने ट्रक क्र. एमएच 40 बीजी 6617 मोबाइल व अपराध के लिए प्रयुक्त किया गया टाटा जेस्टा वाहन क्र. सीजी 07 बीके 5180 इस तरह कुल 22 लाख 23 हजार रु. का माल जब्त किया है.

    यह कार्रवाई जिला पुलिस अधीक्षक विश्व पानसरे, अपर पुलिस अधीक्षक अशोक बनकर, एसडीपीओ जालिंगदर नालकुल के मार्गदर्शन में थानेदार रेवचंद सिंगनजुडे,  उप निरीक्षक नरेश उरकुडे,  कांस्टेबल जांगडे, हातझाडे आदि ने की है.   पुलिस कार्रवाई व इस सफलता के लिए  एसपी पानसरे ने पूरी  टीम का अभिनंदन किया.  प्रकरण की जांच पुलिस उपनिरीक्षक नरेश उरकुडे कर रहे हैं.