सुरक्षा दिलाने की मांग को लेकर मेडिकल कॉलेज के डॉक्टरों का आंदोलन

    गोंदिया. शासकीय मेडिकल कालेज में कार्यरत विद्यार्थी डाक्टरों ने सोमवार को काम बंद आंदोलन कर प्रशासन से पूर्ण सुरक्षा मुहैया कराने की मांग की है. इसमें  डाक्टरों ने काला फीता लगाकर आंदोलन में भाग लिया. शासकीय मेडिकल कालेज में अध्ययनरत अलग अलग विभागों के अंतिम वर्ष के छात्रो को मेडिकल कालेज में ही अनुबंध पर नियुक्त किया गया है.

    जिससे मेडिकल कालेज सहित केटीएस जिला सामान्य अस्पताल व बीजीडब्ल्यु अस्पताल की स्वास्थ्य सेवा में बड़ा सुधार दिखाई दे रहा है. पूर्व की अपेक्षा अस्पताल के हर एक वार्ड में इंट्ररेंस पर डाक्टर वर्ग कार्यरत है. लेकिन अस्पताल में अपराधिक तत्व व अपराधी प्रवृत्ति के लोग कभी भी पहुंचकर इन डाक्टरों से मनमाना  व्यवहार करते हैं. जिससे डाक्टरों में दहशत व असंतोष व्याप्त है.

    इस संबंध में डाक्टरों के प्रतिनिधि मंडल ने मेडिकल कालेज के प्रभारी डीन  से भेंट कर उन्हें ज्ञापन सौंपकर  अस्पताल परिसर में कार्यरत डाक्टरों को सुरक्षा देने की मांग की गई है. उल्लेखनीय है कि जिला पुलिस अधीक्षक विश्व पानसरे ने कोरोना काल में डाक्टरों के साथ की जा रही ज्यादती पर अंकुश लगाने के लिए एक व्हाट्सअप ग्रुप   का गठन किया था लेकिन कोरोना का संक्रमण नियंत्रण में होने व स्थिति सामान्य हो जाने के बाद वह ग्रुप कार्यरत नहीं है.