शातिर चोर पुलिस के हत्थे चढ़ा, 3.48 लाख का माल बरामद

    गोंदिया. जिला अपराध शाखा की टीम ने भारी जद्दोजहद के बाद आखिरकार चोरी की घटनाओं को अंजाम देने वाले नंगपुरा मुर्री निवासी 2 शातीर चोर को गिरफ्तार कर उनके पास से 4 मोटर साइकिल व 5 समरसिबल मोटर पंप, 3 बैटरी सहित 3 लाख 48 हजार रु. का माल जप्त करने में सफलता प्राप्त की है. जिला पुलिस अधीक्षक विश्व पानसरे ने जिले में चोरी, घरफोडी की घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए निर्देश दिए थे.

    जिससे जिला अपराध शाखा के पुलिस निरीक्षक बबन आव्हाड़ की अगुवाई में जिला अपराध शाखा की टीम शहर पुलिस स्टेशन व ग्रामीण पुलिस स्टेशन की सीमा में अपराध प्रतिबंधक पेट्रोलिंग पर थी. तभी गुप्त सूचना मिली की शहर के नंगपुरा मुर्री निवासी विजय टेकचंद शरणागत यह चोरी की बजाज पल्सर मोटर साइकिल पर घुम रहा है और  टीम ने उसकी खोज शुरू कर दी. इस बीच वह संजय नगर मुर्री परिसर में बजाज पल्सर मोटर साइकिल पर दिखाई दिया.

    उसे संकेत देकर रूकने के लिए कहा गया था. पुलिस ने अपना परिचय देकर नाम पुछा तो उसने अपना नाम नंगपुरा निवासी विजय टेकचंद शरणागत बताया. इसी तरह उसके कब्जे वाली बजाज पल्सर के संबंध में पुछताछ करने पर उसने टालमटौल उत्तर दिया. जब सख्ती दिखाई तो उसने बताया कि एक माह पूर्व नवेगांव पांढराबोड़ी स्थित एक घर के सामने से नाबालिग मित्र के साथ चोरी की है.

    इसी तरह 2 मोटर साइकिल छत्तीसगढ़ राज्य के राजनांदगांव व 1 मोटर साइकिल तिरोड़ा तहसील अंतर्गत बड़ेगांव से चोरी  कबुल की. इतना ही नहीं दो तीन माह पूर्व जब्बारटोला, निलज, पांढराबोडी व तेढ़वा से 5 समरसीबल मोटर पंप व डोंगरगांव से ट्रैक्टर की 3 बेटरियां चोरी करने की बात कबुल की है. इस पर पुलिस टीम ने आरोपी की निशानदेही पर उसके घर से चोरी का माल जप्त किया है. इस चोरी की सामग्री में मोटर साइकिल, बेटरियां व मोटर पंप सहित 9 सामग्री का समावेश है.

    जिसकी कुल कीमत 3 लाख 48 हजार रु. है.  जांच कार्रवाई के लिए जिला अपराध शाखा ने टेकचंद शरणागत व एक नाबालिग दोनों को ग्रामीण पुलिस को सौंप दिया है. इस कार्रवाई में जिला अपराध शाखा के पुलिस उपनिरीक्षक मनोज उघड़े, हेड कांस्टेबल राजेंद्र मिश्रा, अर्जुन कावले, भुवनलाल देशमुख, महेश मेहर, विजय मानकर, संतोष केदार व लक्ष्मण बंजार आदि शामिल थे.