लकड़ी और नारियल के पत्तों से बनाए गए ‘इको-फ्रेंडली’ गणेश, देखें तस्वीरें

    महाराष्ट्र. देशभर में दस दिवसीय गणेशोत्सव की शुरुआत हो चुकी है। गणेश चतुर्थी की शुरुआत होते ही बाजारों में तरह-तरह की भगवान गणपति की मूर्तियां आने लगी हैं। वहीं गणेश चतुर्थी पर एन-6, सिडको, औरंगाबाद में एक संस्था ने भगवान गणेश की 31 फीट ऊंची ‘इको-फ्रेंडली’ प्रतिमा बनाई है। 

    आज हम आपको बप्पा की प्लाईवुड, लकड़ी के तख्तों से बनाई मूर्ति दिखा रहे हैं जो बनाने में बहुत ही आसान है और देखने में बेहद मनमोहक है। 

    कुलस्वामी प्रतिष्ठान के विलास कोर्डे ने कल जानकारी दी कि, “भगवन गणेश की प्रतिमा प्लाईवुड, लकड़ी के तख्तों और नारियल के पत्तों की चटाई से बनाई गई है। “इन मूर्तियोंं खास‍ियत है कि गणेश विसर्जन के बाद मूर्तियों का आसानी से विघटन हो जायेगा। बता दें कि अभी इसकी विस्तृत जानकारी आना बाकी है।