Ajit pawar

    जलगांव. शहर और परिसर में चल रहे सट्टा, जुए जैसे अवैध व्यापारों को लेकर राज्य के उपमुख्यमंत्री (Deputy Chief Minister) अजीत पवार (Ajit Pawar) को शिकायते देने के बाद खुद पवार ने जिला पुलिस अधिकारी (District Police Officer) डॉ. प्रवीण मुंडे (Dr. Praveen Munde) को सख्त कार्रवाई करने को कहा है। शहर में बीते कई दिनों से सहायक पुलिस अधिकारी कुमार चिंथा ने सामाजिक और संस्कृतिक और क्रीडा मंडल के नाम पर सरेआम चल रहे जुए के अड्डे ध्वस्त कर दिये थे।

    शहर के सिटी बस स्टैंड समीपस्थ के एक निवासी संकुल में धरनगांव के पूर्व नगर अध्यक्ष के पती और राष्ट्रवादी कांग्रेस के नेता ज्ञानेश्वर महाजन सामाजिक और संस्कृतिक और क्रीडा मंडल के नाम सरेआम जुए का अड्डा चला रहे थे। शहर पुलिस थाना समीप होने पर भी यह जुआ अड्डा पुलिस के नजर में नही था। बहरहाल सहायक अधिकारी चिंथा ने अपने कार्यालय के पुलिस कर्मियों को साथ लेकर अड्डे पर छापेमारी कर ज्ञानेश्वर महाजन समेत अन्य लोगों को गिरफ्तार किया और लाखों रुपये सरकारी तिजोरी में जमा कर दिये।

    शहर में इस प्रकार सरेआम सट्टा-जुए जैसे अवैध धंधे चलने पर और पुलिस के कोई भी कार्रवाई ना करने से पुलिस पर उंगलीया उठाई जा रही थी। पुलिस विभाग में जिस पुलिस थाना क्षेत्र में अवैध धंधे चल रहे हो, वहां के थाना प्रभारी पर कार्रवाई की जाती है। यह मुद्दा भी यहा उठाया गया और जब ज्ञानेश्वर महाजन के अड्डे पर छापा डाला गया तो यह बात उपमुख्यमंत्री अजीत पवार तक गयी। ज्ञात होता है की, राज्य के पुलिस  महासंचालक की बैठक में जिला पुलिस अधिकारी डॉ. मुंडे को तलब किया गया था, वहीं पवार ने जिले में अवैध व्यापारों पर सख्त कार्रवाई करने को सूचित किया है। अब पुलिस अधिकारी मुंडे ने किसी भी पुलिस थाना क्षेत्र में अवैध व्यापारों के सामने आने पर थाना प्रभारी को कार्रवाई की चेतावनी दी है।