Fill the pits lying on the Fagne-mukti highway immediately, otherwise there will be an indefinite hunger strike: Umakant Patil

    धुलिया. सुरत-नागपूर राष्ट्रीय महामार्ग पर फागणे-मुकटी के बीच और साथ ही मुकटी स्थित पुल पर बड़े-बड़े गढ्ढे हो गए हैं। नतीजतन, दुर्घटनाओं में भारी वृद्धि हुई है इसलिए सड़कों पर पड़े गड्ढों को तुरंत भरें, अन्यथा अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल होगी, पूर्व सरपंच उमाकांत पाटिल ने दी चेतावनी।

    इस गंभीर समस्या से बार-बार हाईवे प्रशासन को अवगत कराने के बाद भी गड्ढों को अब तक नहीं भरा गया है। गड्ढों से हो रहे हादसों के कारण यात्रियों को जान हाथ में लेकर सफर करना पड़ रहा है। पिछले एक पखवाड़े में अजंग गांव के पास ही गड्ढों के कारण मुकटी के पिता-पुत्र की मौत हो गई थी। इससे पहले भी कई लोग गड्ढों के कारण अपनी जान गंवा चुके हैं। राजमार्ग पर मुकटी-फागणे के बीच गढ्ढों की छलनी बन गई है। जबकि फोर लेन का काम चल रहा है और सड़क के दोनों ओर बाईपास लेन नहीं है।

    जिम्मेदारी राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अधिकारियों की होगी

    फागणे मुकटी के बीच हाईवे पर बने गड्ढों से भीषण दुर्घटना होने की आशंका है, जिसकी जिम्मेदारी राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के अधिकारियों की होगी। दिए गए निवेदन पर तुरंत कार्रवाई करते हुए फागणे-अजंग-मुकटी के बीच महामार्ग पर गढ्ढे तुरंत चारकोल डाल कर भरे जाए। अन्यथा राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण कार्यालय के सामने उपोषण किया जाएगा, एैसा इशारा मुकटी के पूर्व सरपंच उमाकांत पाटील ने राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण कार्यालय प्रकल्प संचालक धुलिया और जलगांव महामार्ग अधिकारियों को ज्ञापन दे कर किया।