Keeping in view the new challenges, the state government will meet every requirement of the academy- CM Uddhav Thackeray

    नाशिक. राज्य (State) के मुख्यमंत्री (Chief Minister) उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने कहा, महाराष्ट्र पुलिस अकादमी (Maharashtra Police Academy) के माध्यम से नागरिकों की सुरक्षा करने वाले अधिकारियों को प्रशिक्षित किया जाता है। नई चुनौतियों को ध्यान में रखते हुए अधिकारियों को सही तरह से प्रशिक्षण देने के लिए अकादमी की आवश्यक जरूरतों को पूरा करने के लिए सरकार की ओर से हरसंभव सहयोग किया जाएगा। वे महाराष्ट्र पुलिस अकादमी स्थित विविध प्रकल्पों के उद्घाटन समारोह को संबोधित कर रहे थे।

    इस समय जिले के पालकमंत्री छगन भुजबल, गृहमंत्री दिलीप वलसे-पाटिल, पर्यावरण, पर्यटन और राजशिष्टाचार मंत्री  आदित्य ठाकरे, सांसद हेमंत गोडसे, विधायक दिलीप बनकर, सीमा हिरे, सरोज अहिरे, राज्य के पुलिस महासंचालक संजय पांडे, अपर पुलिस महासंचालक संजय कुमार, विभागीय आयुक्त राधाकृष्ण गमे, जिलाधिकारी सूरज मांढरे, पुलिस आयुक्त दीपक पांडे, अकादमी के संचालक अश्वती दोर्जे आदि उपस्थित थे। 

    पुलिस अधिकारियों को बदलते समय में नई तकनिक का प्रशिक्षण आवश्यक है

    मुख्यमंत्री ने आगे कहा, पुलिस अधिकारियों को बदलते समय में नई तकनिक का प्रशिक्षण आवश्यक है। प्रशिक्षण लेते समय मानसिक स्वास्थ्य बरकरार रखना महत्वपूर्ण है। इस दृष्टी से पुलिस अकादमी के निसर्गरम्य परिसर में उत्तम सुविधा निर्माण की गई है। ऐसे वातावरण में प्रशिक्षण लेकर बाहर जाने वाले अधिकारी राज्य की महिलाओं की रक्षा करने वाले है। अकादमी की जरूरत को पूर्ण करने की दृष्टी से सुविधा और प्रशिक्षण की जानकारी देने के लिए फिर से यहां पर आऊंगा। मेरा राज्य आगे कैसे जाएगा यह विचार करना यह संघभावना है। महाराष्ट्र पुलिस दल ने यह संघभावना बरकरार रखते हुए देश में रूतबा हासिल किया है। अपने पुलिस में क्रीडा राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर सुवर्ण पदक जीतने की क्षमता है। उनकी जिद्द को दिशा देना, सहयोग करना सरकार का कर्तव्य है। क्रीडा स्पर्धा की सफलता के लिए आवश्यक सुविधा निर्मिती के लिए पुलिस की अपेक्षा पूर्ण की जाएगी। शिस्तबद्ध संयोजन और कामकाज से मैं खुश हूँ। मेरे पास कामकाज की प्रशंसा करने के लिए शब्द नहीं है। 

    लोकतंत्र व्यवस्था में कानूनी और सुव्यवस्था को बरकरार रखने के लिए पुलिस दल सक्षम होना जरूरी है

    पालकमंत्री भुजबल ने कहा, सुंदर परिसर में यह संस्था खड़ी है। यहां पर अच्छी सुविधा है, जिसका उपयोग प्रशिक्षणार्थी अधिकारियों को करना चाहिए।  पुलिस के लिए सरकार सुविधा उपलब्ध कर रही है। पुलिस दल में संघभावना होती है। क्रीड़ा के माध्यम से वह ओर भी मजबूत हो रही है। ओलंपिक में भी संघभावना का महत्व अब स्पष्ट हो गया है। इस दृष्टी से क्रीडा सुविधा का उपयोग अच्छी तरह से होगा।  लोकतंत्र व्यवस्था में कानूनी और सुव्यवस्था को बरकरार रखने के लिए पुलिस दल सक्षम होना जरूरी है। सक्षम अधिकारी बनाने के लिए नए सीरे से निर्माण की गई सुविधा उपयुक्त साबीत होगी। पुलिस के साथ अन्य विभाग से आने वाले प्रशिक्षणार्थियों को भी इस सुविधा का उपयोग होगा।  प्रशिक्षणार्थी अधिकारियों ने क्रीड़ा सुविधा का उपयोग कर सफलता हासिल करें। 

    गृहमंत्री वलसे-पाटिल ने कहा, ओलंपिक की सफलता की पार्श्वभूमी पर क्रीडा सुविधा का उद्घाटन कार्यक्रम को महत्व है। ओलंपिक दर्जे के खिलाड़ी तैयार करने की दृष्टी से इस सुविधा का उपयोग होगा। अंतर्राष्ट्रीय दर्जे की फायरिंग रेंज उपलब्ध होने से देश स्तर पर उसका उपयोग होगा।  ‘निसर्ग’ प्रकल्प भी पर्यावरण की दृष्टी से महत्वपूर्ण है। अकादमी व्यवस्थापन और नागरिकों से होने वाले संबंधों का प्रशिक्षण दिया जाता है। अपराधियों का मानसशास्त्र और संवाद का प्रशिक्षण भी महत्वपूर्ण है।  पुलिस द्वारा अच्छे कार्य अपेक्षा करते समय उन्हें मिलने वाली सुविधाओं का भी विचार करना जरूरी है। समय की जरूरत को ध्यान में रखते हुए अकादमी द्वारा नई तकनिक के तहत प्रशिक्षण देना चाहिए।

    सभी प्रकल्प निर्धारित समय पर पूर्ण कर अकादमी ने प्रशंसनीय काम किया है

    पर्यटन मंत्री ठाकरे ने कहा, सभी प्रकल्प निर्धारित समय पर पूर्ण कर अकादमी ने प्रशंसनीय काम किया है। क्रीड़ा सुविधा के माध्यम से नया इतिहास रचने के लिए मुलभूत सुविधा उपलब्ध की गई है। आगामी बैच के हर एक अधिकारी ने इस सुविधा का लाभ होगा। पुलिस महासंचालक पांडे ने कहा, महाराष्ट्र पुलिस अकादमी 115 वर्ष पुरानी है। यहां पर दर्जात्मक प्रशिक्षक उपलब्ध है। अकादमी क्रीडा सुविधा होने से खिलाड़ी राष्ट्रीय और अंतर राष्ट्रीय स्पर्धा में शामिल होंगे।  ऐसे खिलाड़ियों केा प्रोत्साहन देने का प्रयास पुलिस दल की ओर से किया जाएगा।  प्रास्ताविक करते समय संजय कुमार ने कहा, कोविड स्थिति में सभी प्रकल्प समय पर पूर्ण किए गए।  नैसर्गिक जलशुद्धीकरण प्रकल्प अनूठा है।  प्रतिदिन 2 लाख लिटर पानी पुर्न उपयोग के लिए किया जाएगा।  अकादमी द्वारा ऑनलाइन प्रशिक्षण की सुविधा उपलब्ध की गई है।  महाराष्ट्र पुलिस अकादमी में दर्जात्मक मुलभूत सुविधा उपलब्ध है।  मुख्यमंत्री ठाकरे के हाथों अकादमी के विविध सुविधा निर्माण करने के लिए सहयोग करने वाले लोकनिर्माण विभाग के अधिकारी और निजी संस्था के प्रतिनिधियों का सम्मान किया गया। 

    विविध प्रकल्पों का उद्घाटान

    मुख्यमंत्री के हाथों महाराष्ट्र पुलिस अकादमी परिसर के नवनिर्मित इनडोअर कंपोझिट फायरिंग रेंज, सिंथेटीक ट्रॅक, अस्ट्रोटर्फ फुटबॉल मैदान, ॲस्ट्रोटर्फ हॉकी मैदान, सिंथेटीक टॉपिंग बास्केटबॉल व वालिबॉल मैदान तथा निसर्ग उद्यान का उद्घाटन किया गया।  मुख्यमंत्री सहित अन्य मंत्रियों ने सभी प्रकल्पों की जानकारी ली।