Maharashtra Palghar Police arrested self proclaimed godman, used to allegedly loot in the name of 'removing evil spirit'
प्रतीकात्मक तस्वीर

    कोल्हापुर. बाढ़ (Flood) की वजह से हुए नुकसान (Loss) के सर्टिफिकेट (Certificate) के लिए तीन हज़ार रुपए की रिश्वत (Bribe) लेते करवीर तालुका के आंबेवाड़ी ग्राम पंचायत के चपरासी शिवाजी दत्तात्रय चौगुले (43) को एंटी करप्शन ब्यूरो (Anti Corruption Bureau) ने गिरफ्तार (Arrested) कर लिया है।

    कोल्हापुर जिले (Kolhapur District) में इस वर्ष आई बाढ़ में आंबेवाड़ी ग्राम पंचायत की सीमा में होटल परमिट रूम बियर बार का नुकसान हुआ था। होटल का बिज़नेस फिर से शुरू करने के लिए सरपंच से नो ऑब्जेक्शन सर्टिफिकेट (NOC) जोड़ना आवश्यक है। 

    एंटी करप्शन ब्यूरो ने किया गिरफ्तार

    इस सर्टिफिकेट को पाने के लिए शिकायतकर्ता ने ग्राम पंचायत में आवेदन किये जाने के बावजूद चपरासी शिवाजी चौगुले ने इस सर्टिफिकेट के लिए 3 हज़ार रुपए की रिश्वत मांगी।  इसकी शिकायत 24 अगस्त को की गई थी। इस शिकायत की पुष्टि करने के बाद उसे एंटी करप्शन ब्यूरो ने गिरफ्तार कर लिया गया।