Murder

    कोल्हापुर. शराब पीकर मां को हमेशा पीटने वाले पिता की हत्या करनेवाले बेटे अमोल दत्तात्रय पाटिल को कागल पुलिस (Kagal Police) ने गिरफ्तार (Arrested) किया है।  पुलिस (Police) से मिली जानकारी के अनुसार, अपने पिता की हत्या (Murder) करने के बाद अमोल पाटिल ने हत्या को दुर्घटना बताने के लिए पिता के मृतदेह को सड़क के किनारे फेंक दिया। लेकिन पुलिस ने इस घटना की गहराई से छानबीन की तो तीन दिन बाद यह हत्या का मामला उजागर हुआ। कागल तहसील के  केनवडे में हुई इस वारदात में बेटे अमोल दत्तात्रय पाटिल को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। 

    केनवडे स्थित दत्तात्रय पाटिल, इचलकरंजी में रहते थे। उनकी पत्नी और दत्तात्रय के बीच अनबन थी इसलिए पत्नी और बेटा कागल तहसील में केनवडे गांव में रहते थे। दत्तात्रय पाटिल कभी-कभार केनवडे में आते थे। उनका अपने भाई से भी किसी बात पर विवाद चल रहा था। इस विवाद को बेटे ने खत्म किया था, इसी बात का गुस्सा दत्तात्रय को दिल ही दिल में पनप रहा था। 

    घटनास्थल पर ही मौत 

    इसके अलावा पत्नी और बेटे के साथ भी दत्तात्रय हमेशा झगड़ा करता था और उनकी बेवजह शराब पीकर पिटाई करता। इस बात का बेटे अमोल को भी गुस्सा था। चार दिनों पूर्व  दत्तात्रय पाटिल ने शराब पीकर फिर से घर में जाकर झगड़ा किया और घर से बाहर गया। देर रात अपने घर की ओर लौटते समय बेटे अमोल ने कागल से निढोरी सड़क पर उसको रोक लिया। और तेज धार वाले सलिए से पिता के सर पर वार किया। गहरा वार लगने से दत्तात्रय पाटिल की घटनास्थल पर ही मौत हो गई। उसके बाद बेटे अमोल ने मृतदेह सड़क के किनारे पर फेंक दिया और वह घर लौट गया। 

    बेटे मे कबुला अपना गुनाह

    कागल पुलिस को सड़क दुर्घटना की खबर मिली थी, पुलिस के अनुसार  पुलिस ने अज्ञात वाहन के ठोकर से दत्तात्रय पाटिल की मौत होने का मामला दर्ज किया, लेकिन पोस्टमार्टम के रिपोर्ट से मामले की छानबीन शुरू की। केवल सर पर एक ही जगह पर गहरा जख्म होने के मेडिकल रिपोर्ट  से पुलिस चौकन्नी हो गई और गहराई से छानबीन करने पर हत्या का मामला सामने आया और बेटे अमोल पाटिल ने ही पिता की ह्त्या करने की बात सामने आई। बेटे को हिरासत में लेकर पूछताछ करने पर उसने हत्या करने की बात को कबूल किया। मामले की छानबीन पुलिस उप अधीक्षक आर. आर.  पाटिल के मार्गदर्शन में  सहायक पुलिस निरीक्षक दिलीप वाकचौरे ने की।