Maharashtra Bandh : BEST bus service stopped in Mumbai during Maharashtra bandh, decision after stone pelting incident on buses

    मुंबई: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) में चार किसानों (Farmers) की हत्या (Murder) के विरोध में महाराष्ट्र (Maharashtra) में तीन सत्तारूढ़ दलों द्वारा बुलाए गए महाराष्ट्र बंद (Maharashtra Bandh) के मद्देनजर यहां कुछ स्थानों पर पथराव की घटनाओं के बाद बृहन्मुंबई इलेक्ट्रिक सप्लाई एंड ट्रांसपोर्ट (बेस्ट) की बस सेवाएं (BEST Bus Services) सोमवार को मुंबई (Mumbai) में बंद कर दी गईं। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

    बेस्ट प्रशासन ने पुलिस सुरक्षा की मांग की

    बेस्ट द्वारा जारी एक बयान में कहा गया है कि सुबह-सुबह धारावी, मानखुर्द, शिवाजी नगर, चारकोप, ओशिवरा, देवनार और इनऑर्बिट मॉल के पास नौ बसें क्षतिग्रस्त हो गईं, इनमें पट्टे पर किराए पर ली गई एक बस भी शामिल है। बयान में कहा गया, ‘‘बेस्ट प्रशासन ने पुलिस सुरक्षा की मांग की है और स्थिति की समीक्षा के बाद सभी डिपो से बसों का संचालन किया जाएगा।” सत्तारूढ़ शिवसेना से संबद्ध बेस्ट कामगार सेना के नेता सुहास सामंत ने रविवार को एक वीडियो क्लिप में सभी बेस्ट कर्मचारियों से बंद का समर्थन करने की अपील की। बेस्ट बसें और कई पारंपरिक ‘काली-पीली कैब’ सड़कों से दूर रहीं, स्थानीय ट्रेनों से आने-जाने के लिए उपनगरीय रेलवे स्टेशनों पर भारी भीड़ थी, जो निर्धारित समय के अनुसार चल रही थीं।

    महाविकास आघाड़ी सरकार की लोगों से समर्थन की अपील 

    महाराष्ट्र की महा विकास आघाड़ी (एमवीए) सरकार में तीनों सहयोगी दलों शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और कांग्रेस ने लोगों से किसानों के साथ एकजुटता व्यक्त करने के लिए आधी रात से शुरू हुए बंद का पूरे दिल से समर्थन करने की अपील की है। सुबह के समय मुंबई और आसपास के इलाकों में आवश्यक वस्तुओं की बिक्री में लगे लोगों को छोड़कर, दुकानें और अन्य व्यावसायिक प्रतिष्ठान बंद रहे।

    बंद के समर्थन में दुकानों को आधे दिन के लिए बंद रखने का फैसला 

    फेडरेशन ऑफ रिटेल ट्रेडर्स वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष वीरेन शाह ने कहा कि उन्होंने बंद के समर्थन में दुकानों को आधे दिन के लिए बंद रखने का फैसला किया है। शाह ने बताया, ‘‘दुकानें शाम चार बजे से फिर से खुलेंगी।” शिवसेना के राज्यसभा सांसद संजय राउत ने पिछले हफ्ते कहा था कि उनकी पार्टी महाराष्ट्र में सोमवार के बंद में पूरे जोर-शोर से हिस्सा लेगी। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की ‘किसान विरोधी’ नीतियों के खिलाफ लोगों को जगाना जरूरी है।

    लखीमपुर खीरी में हुई थी चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत

    उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में तीन अक्टूबर को चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई थी। आरोप है कि भाजपा कार्यकर्ताओं को ले जा रहे वाहनों से कुचले जाने से किसानों की मौत हो गई, जिसके बाद गुस्साई भीड़ ने इन वाहनों में सवार कुछ लोगों की कथित तौर पर पीट-पीट कर हत्या कर दी। शनिवार रात केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा को पुलिस ने लखीमपुर खीरी में तीन अक्टूबर की हिंसा के सिलसिले में गिरफ्तार किया था। राकांपा प्रवक्ता और महाराष्ट्र के मंत्री नवाब मलिक ने रविवार को कहा कि एमवीए केंद्रीय मंत्री अजय मीश्रा को बर्खास्त करने की मांग करता है।