uddhav
File Pic

    मुंबई. सुबह कि बड़ी खबर के अनुसार महाराष्ट्र (Maharashtra) के मुख्यमंत्री एवं शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने बीते रविवार को BJP पर जमकर हमला बोला।इतना ही नहीं उन्होंने राजनीतिक सुविधा के अनुसार हिंदुत्व का इस्तेमाल करने का BJP पर आरोप लगाते हुए कहा कि उनकी पार्टी राज्य के बाहर अपना प्रसार करने का भरपूर प्रयास करेगी और उसका लक्ष्य राष्ट्रीय भूमिका हासिल करने भी रहेगा। साथ ही उन्होंने कहा कि BJP नीत राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) अब बहुत सिकुड़ गया है क्योंकि अकाली दल एवं शिवसेना जैसे पुराने सहयोगी पहले ही उससे बाहर निकल चुके हैं।

    गौरतलब है कि बीते रविवार को वे पार्टी के संस्थापक और अपने पिता बाल ठाकरे की 96 वीं जयंती पर शिवसैनिकों को डिजिटल माध्यम से संबोधित करते हुए उद्धव ठाकरे ने कहा कि शिवसेना ने सत्ता के माध्यम से हिंदुत्व के एजेंडे को आगे लेने के जाने के लिए ही BJP से हाथ मिलाया था। उन्होंने साथ ही कहा, “शिवसेना ने भाजपा के साथ गठजोड़ किया था क्योंकि वह हिंदुत्व के लिए सत्ता चाहती थी। शिवसेना ने सत्ता की खातिर कभी हिंदुत्व का इस्तेमाल नहीं किया।”

    साथ ही बता दें कि कि महाराष्ट्र के CM उद्धव ठाकरे ने बीते 23 जनवरी को महाराणा प्रताप चौक, मझगांव, मुंबई में अपने बेटे और राज्य मंत्री आदित्य ठाकरे, मुंबई के मेयर किशोरी पेडनेकर और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों के साथ महाराणा प्रताप की एक प्रतिमा का अनावरण भी किया।

    इस अवसर पर उन्होंने उन्होंने कहा कि, “शिवसेना ने हिंदुत्व को नहीं बल्कि BJP को ही छोड़ दिया है। मैं यही मानता हूं कि भाजपा का अवसरवादी हिंदुत्व बस सत्ता के लिए है।” उन्होंने आगे कहा कि शिवसेना ने BJP के साथ गठबंधन में जो 25 साल निकाले वह ‘बर्बाद’ ही हुए। उन्होंने यह संगीन आरोप लगाया कि BJP अपनी सुविधा के हिसाब से ही अपने सहयोगियों का इस्तेमाल करती है और फिर उन्हें किनारे लगा देती है। उन्होंने आगे कहा, “BJP का अब मतलब हिंदुत्व नहीं है। मैं अपने इस बयान पर कायम हूं कि शिवसेना ने भाजपा के साथ गठबंधन में 25 साल बर्बाद कर दिये हैं ।”

    बता दें कि शिवसेना बीते 2019 के महाराष्ट्र चुनाव के बाद BJP से अलग हो चुकी है और साथ ही उन्होंने NCP एवं कांग्रेस के साथ मिलकर महा विकास अघाड़ी की अपनी सरकार बना ली थी।