Maharashtra CM Uddhav Thackeray has called an all-party meeting on the issue of OBC reservation

    मुंबई: भारत में कोरोना (Coronavirus Pandemic) का प्रकोप धीमा पड़ गया है। कोविड (COVID-19) का कहर झेल चुके महाराष्ट्र (Maharashtra Corona Updates) में भी मामले कम सामने आ रहे है। वैसे राज्य में कोविड के खतरे को देखते हुए भले ही अनलॉक (Unlock) जारी है लेकिन कड़े नियम लागू हैं। इसी बीच महाराष्ट्र की उद्धव सरकार (Uddhav Govt) ने एक बड़ा ऐलान किया है। बताना चाहते हैं कि वैक्सीनेशन में तेजी लाने के मकसद से अब घर-घर वैक्सीन लगाने की शुरूआत सूबे में होने जा रही है। 

    ज्ञात हो कि महाराष्ट्र सरकार के इस फैसले की शुरूआत पुणे से होगी। वैक्सीनेशन को तेज करने के लिए सरकार केंद्र पर निर्भर नहीं रहने वाली है। राज्य की महाविकास आघाडी सरकार ने यह जानकारी बॉम्बे हाईकोर्ट में दी है। दरअसल घर-घर वैक्सीनेशन से जुड़ी याचिका पर सुनवाई के दौरान कोर्ट को यह जानकारी महाराष्ट्र सरकार ने दी है। 

    उल्लेखनीय है कि बॉम्बे हाईकोर्ट में दायर याचिका में बुजुर्ग और जिन्हें गंभीर बीमारियां हैं और जो घर से बाहर नहीं जा सकते हैं, ऐसे लोगों को घर के भीतर वैक्सीन देने की मांग उठाई गई थी। जिसके बाद बॉम्बे हाईकोर्ट में सुनवाई की। कोर्ट ने कहा कि घर-घर वैक्सीनेशन को शुरू करने के लिए राज्य को केंद्र से इजाजत की आखिर जरूरत क्यों है?

    वहीं बॉम्बे हाईकोर्ट ने यह भी कहा कि क्या केंद्र से हर काम राज्य सरकार पूछती है फिर करती है? इस मामले में कोर्ट ने राज्य सरकार को आज जवाब देने के लिए कहा था। जिसके बाद राज्य सरकार ने कहा कि वह अब केंद्र की अनुमति का इंतजार नहीं करने वाली है। साथ ही घर-घर वैक्सीनेशन की शुरूआत केंद्र की इजाजत के बगैर करेगी। जिन लोगों को वैक्सीन घर पर चाहिए उन्हें ई-मेल के जरिए रजिस्ट्रेशन करना पड़ेगा। इसे लेकर राज्य सरकार जल्द ही एक ई-मेल आईडी जारी करने जा रही है।