Maharashtra Floods : Flood and landslide worsened the situation in Maharashtra, CM Uddhav Thackeray could not reach Satara, helicopter was diverted to Pune
Photo:NDRF

    मुंबई: महाराष्ट्र के कई इलाकों में बाढ़ (Maharashtra Floods) और भूस्खलन (Landslide) की घटना में सैकड़ों लोगों की अब तक जान चली गई है। कई लोग घायल (Injured) हैं और उनके घर पूरी तरह से बर्बाद हो चुके हैं। ऐसे में राज्य में बने हालातों का जाएज़ा लेने खुद महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray) दौरे पर हैं, लेकिन सातारा (Satara) जिले के बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा करने जा सीएम मौसम में खराबी के चलते वहां नहीं पहुंच पाए। सरसल सीएम के हेलीकॉप्टर को कोयना हेलीपैड पर उतरना था लेकिन विज़िबिलिटी कम होने की वजह से उनके हेलीकॉप्टर को पुणे डाइवर्ट कर दिया गया। 

    वहीं महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने सांगली जिले के बाढ़ प्रभावित अनेक गांवों का सोमवार को दौरा किया और कुछ इलाकों में बाढ़ पीड़ितों के पास वह नाव के जरिए पहुंचे। पवार ने बाढ़ प्रभावित लोगों से बातचीत की और उन्हें पुनर्वास का और राज्य सरकार की ओर से हरसंभव मदद का आश्वासन दिया। राज्य के जल संसाधन मंत्री जयंत पाटिल, राहत और पुनर्वास मंत्री विजय वाडेट्टीवार और राज्य मंत्री विश्वजीत कदम बाढ़ प्रभावित जिले के भीलवाड़ी और अन्य इलाकों के दौरे में पवार के साथ थे। ये लोग भीलवाड़ी में लोगों तक नाव के जरिए पहुंचे। 

    जिला प्रशासन ने बताया कि, पवार स्थिति का जायजा लेने के बाद समीक्षा बैठक करेंगे। एक अधिकारी ने बताया कि इस बीच इरविन पुल पर कृष्णा नदी का जलस्तर सुबह 11 बजे 52.11 फुट था, जबकि खतरे का निशान 45 फुट पर है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे सतारा जिले के पाटन में बारिश से प्रभावित इलाकों का सोमवार को दौरा करेंगे। गौरतलब है कि पिछले सप्ताह महाराष्ट्र में भारी बारिश के कारण कई स्थानों पर बाढ़ आई और भूस्खलन की घटनाएं हुईं।

    (एजेंसी इनपुट्स के साथ)