Maharashtra Floods : Flood-like situation in Maharashtra, see horrifying scenes in pictures
NDRF ने तेज किया रेस्क्यू ऑपरेशन (Photo Credits-ANI Twitter)

    मुंबई: महाराष्ट्र में मानसून (Maharashtra Rains Updates) की दस्तक के साथ ही हालात खराब हैं। राज्य में पिछले दो दिनों के भीतर बारिश ने तांडव मचाया हुआ है। रिपोर्ट के अनुसार अलग-अलग घटनाओं में अब तक 129 लोगों की जान गई है। साथ ही अब भी कई लोगों के मलबे में दबने की खबर है। राज्य आपदा प्रबंधन विभाग ने एक बयान में कहा कि लोगों की भूस्खलन, बारिश और बाढ़ की चपेट में आने से मौत हुई है। जिसके चलते सूबे में एनडीआरएफ ने रेस्क्यू ऑपरेशन तेज किया है। 

    ज्ञात हो कि महाराष्ट्र की मुश्किलें और भी बढ़ गई हैं। आईएमडी ने अगले 24 घंटों के लिए महाराष्ट्र के कुछ इलाकों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। भारी बारिश के कारण रायगढ़ जिले के एक गांव  में भूस्खलन के चलते अब तक 44 लोगों की मौत हुई है। शुक्रवार को तलाई गांव से 32 शव बरामद हुए हैं। जबकि अन्य आस-पास के गांव में मिले हैं। हालात के मद्देनजर प्रशासन ने एनडीआरएफ के साथ मिलकर सर्च और रेस्क्यू ऑपरेशन तेज किया है। रायगढ़ और रत्नागिरी में भूस्खलन हुआ है।

    महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने एक बयान में कहा कि रायगढ़ के तलाई गांव में भूस्खलन की घटना में लगभग 35 लोगों की मौत हुई है। कई जगहों पर रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। मैंने उन लोगों को निकालने और उन्हें दूसरी जगह ले जाने का आदेश दिया है जो उन क्षेत्रों में रह रहे हैं जहां भूस्खलन की संभावना है।

    दूसरी तरफ महाराष्ट्र सरकार में शहरी विकास और पीडब्ल्यूडी मंत्री एकनाथ शिंदे ने कहा कि लगभग 80-85 लोग लापता हैं। अभी तक 33 लोगों के शव बरामद किए गए हैं, और भी लोग मलबे के नीचे हैं। ये बड़ी दुर्घटना है। 

    उल्लेखनीय है कि महाराष्ट्र में भारी बारिश के चलते हालात खराब हो गए हैं। राहत और बचाव कार्य के लिए एयरफोर्स भी मदद कर रही है। साथ ही खबर है कि अब नेवी भी मदद के लिए आएगी। राहत कार्य के लिए एयरफोर्स के दो Mi-17 हेलिकॉप्टर्स का इस्तेमाल किया जा रहा है।