Jitendra Awhad
File Pic

    मुंबई. महाराष्ट्र के गृह निर्माण मंत्री जितेंद्र आव्हाड (Maharashtra Minister Jitendra Awhad) को गुरुवार को अनंत करमुसे (सिविल इंजिनियर) अपहरण और मारपीट मामले (Anant Karmuse Kidnapping and Assault Case) में गिरफ्तार कर लिया गया। हालांकि बाद में ठाणे सत्र न्यायालय (Thane Session Court) ने मंत्री को 10 हजार के जमानत मुचलके पर बेल दे दी गई। वहीं अब भारतीय जनता पार्टी ने उद्धव ठाकरे सरकार से मंत्री को तत्काल बर्खास्त करने की मांग की है।

    ठाणे पुलिस ने आव्हाड की गिरफ्तारी की पुष्टि करते हुए कहा, “आज शाम को जितेंद्र अव्हाड सीआर नंबर 120/2020 के मामले में वर्तक नगर पुलिस स्टेशन पहुंचे थे। उनके खिलाफ 365, 324, 143, 147, 148, 506 के तहत केस दर्ज है। वर्तक नगर पुलिस ने उनका बयान दर्ज किया और उन्हें ठाणे कोर्ट में पेश किया गया। मजिस्ट्रेट ने बाद में उन्हें 10,000 रुपये के जमानत मुचलके और एक जमानत पर रिहा कर दिया।”

    गृह निर्माण मंत्री को तत्काल बर्खास्त करें: बीजेपी

    उधर भारतीय जनता पार्टी ने उद्धव ठाकरे सरकार से गृह निर्माण मंत्री जितेंद्र आव्हाड को तत्काल बर्खास्त करने की मांग की है। भाजपा नेता किरीट सोमैया ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट कर कहा, “भाजपा की मांग है कि मंत्री जितेंद्र आव्हाड को मंत्रालय से बर्खास्त किया जाना चाहिए। अगर कोई मंत्री कानून को हाथ में लेना शुरू कर देता है, तो राज्य में कानून-व्यवस्था नहीं रहेगी। हमारी मांग है कि प्राथमिकी दर्ज कर कड़ी कार्रवाई की जाए। जिस तरह से उस व्यक्ति को उसके घर से उठाकर आव्हाड के आवास पर ले जाया गया और पीटा गया वह स्वीकार्य नहीं है।”

    क्या है मामला?

    यह मामला पिछले साल का है। जब कोरोना काल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी देशवासियों को दिए जलाने की अपील की थी। लेकिन जितेंद्र आव्हाड ने इसका विरोध किया था। वहीं ठाणे निवासी अनंत करमुसे ने पीएम के आह्वान पर लोगों का भारी समर्थन देखकर फेसबुक और ट्विटर दोनों पर जितेंद्र आव्हाड के खिलाफ एक पोस्ट लिखा कि, “अगर दीया जलाने वाले मूर्ख हैं तो क्या आज पूरा देश मूर्ख है?” साथ ही युवक ने फेसबुक पर जितेंद्र आव्हाड की एक अश्लील तस्वीर भी पोस्ट की।

    सोशल मीडिया पर पोस्ट करने के बाद बाद युवक को 5 अप्रैल 2020 की रात कुछ पुलिसकर्मी आव्हाड के बंगले पर ले गए। जहां मंत्री की मौजूदगी में उसके साथ बेरहमी से मारपीट की गई। युवक ने इस बात की शिकायत पुलिस से की थी। वहीं इसके बाद वर्तक नगर पुलिस स्टेशन में जितेंद्र आव्हाड के खिलाफ पुलिस का दुरुपयोग करने का मामला दर्ज किया गया था।