Manoj Jarange Patil Maratha Reservation
मनोज जरांगे पाटिल (फ़ाइल फोटो)

Loading

पातुर. सरकार को पूरी तरह से मराठा समाज को आरक्षण देना ही पड़ेगा, जिसका लाभ संपूर्ण मराठा समाज को मिलेगा. छगन भुजबल द्वारा कितना भी विरोध किया गया तो भी मराठा समाज का ओबीसी आरक्षण में समावेश किया जाएगा. यह विचार मराठा नेता मनोज जरांगे पाटिल ने जन सभा में प्रकट किए. वे जिले की पातुर तहसील में स्थित चरणगांव गांव में बोल रहे थे. उन्होंने कहा कि, धनगर समाज ने भी आरक्षण के लिए आवाज बुलंद करनी चाहिए.

उन्होंने स्पष्ट कहा कि, मराठा समाज ने अब तक अनेकों नेताओं पर विश्वास किया लेकिन लेकिन समाज के साथ हमेशा विश्वासघात होता रहा. अनेक वर्षों से करीब 35 लाख पंजियन अब तक प्राप्त हुए हैं. यदि मराठा समाज को 70 वर्ष पूर्व ही आरक्षण मिल गया होता तो अब तक मराठा समाज विश्व में प्रथम क्रमांक पर रहता था. उन्होंने कहा कि सरकार के साथ तय हो गया है सरकार मराठा समाज को आरक्षण देने के लिए कानून पारित करेगी. इसके लिए आवश्यक सबूत मिल गये हैं. सरकार की ओर से 24 दिसंबर को कानून मंजूर हो जाएगा. 

मांगा था एक माह का समय 

उन्होंने मंत्री गिरीश महाजन की आलोचना करते हुए कहा कि, जब आंदोलन शुरू था, सुबह 4 बजे तक उन्होंने अनशन मंडप नहीं छोड़ा था. उन्होंने ही एक माह का समय मांगा था. उन्हें चालीस दिन का समय दिया गया है. मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे, उप मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने उन्हें भेजा था, अब गिरीश महाजन को भी सबूत मिल गए होंगे, यह भी उन्होंने कहा. उन्होंने आगे कहा कि, मराठा समाज के लोगों के भरोसे पर अनेकों ने सत्ता का उपभोग किया है.

अब जब मराठा समाज के लिए कुछ करने का समय आया है तब सरकार ने पीछे नहीं हटना चाहिए. विदर्भ और खान्देश के मराठा समाज ने एकत्रित होकर यह लड़ाई लड़नी चाहिए. इसके लिए विदर्भ के प्रत्येक कोने में जनजागृति करनी जरूरी है. कुछ लोग दो जातियों में विवाद निर्माण करने तथा दंगा भड़काने की कोशिश कर रहे हैं. इसके लिए मराठा समाज ने सजग रहना चाहिए. उन्होंने कहा कि, उन्होंने मराठा आरक्षण की मांग को लेकर 17 दिनों तक अनशन किया था.

इस अनशन के कारण उन्हें काफी तकलीफ हुई, इस कारण अब शरीर में थकान महसूस होती है लेकिन यह लड़ाई कायम रहेगी. यह लड़ाई आरक्षण लेने के बाद ही समाप्त होगी. उन्होंने इस आयोजन के लिए चरणगांव के लोगों की सराहना की. इस गांव में अभी भी श्रृंखलाबद्ध अनशन शुरू है. उन्होंने कहा कि, जब जालना में उन पर उपचार चल रहा था तभी चरणगांव के लोग उनसे मिले थे. उन्होंने कहा था कि, मैं सबसे पहले चरणगांव की सभा में आउंगा. 

पुष्पवर्षा की गई 

सभा स्थल पर जेसीबी की सहायता से मनोज जरांगे पाटिल पर पुष्पवर्षा की गयी. ड्रोन कैमरा लगातार सब पर नजर रख रहा था. सभी जगह उपस्थित लोगों में पानी का वितरण किया गया. सभा में महिलाओं के साथ साथ युवक, युवती बड़ी संख्या में उपस्थित थे. पुलिस का तगड़ा बंदोबस्त था. पटाखों की आतिषबाजी भी की गयी. लोगों में खिचड़ी का वितरण भी किया गया.