corona
Representative Photo

    मुंबई: महाराष्ट्र (Maharashtra) के नवी मुंबई (Navi Mumbai) के एक स्कूल (School) में एक छात्र (Students) के वायरस से संक्रमित पाए जाने के बाद करीब 16 छात्र कोरोना वायरस पॉज़िटिव (Covid Positive) पाए गए हैं। जांच में पता चला है कि, शुरुआत में पॉजिटिव पाए गए छात्र के पिता हाल ही में कतर से लौटे थे। जिसके बाद पूरे परिवार ने वायरस का टेस्ट लिया था जिसमें पिता का टेस्ट नेगिटिव आया था लेकिन बेटा वायरस से संक्रमित पाया गया।

    इसके बाद, 13 दिसंबर को उनके बेटे के स्कूल में कई छात्रों का कोरोना टेस्ट किया गया था और उनमें से सात पॉज़िटिव पाए गए थे। बाद में, लगभग 650 छात्रों ने वायरस टेस्ट किया गया और कुल 16 स्टूडेंट की रिपोर्ट पॉज़िटिव आई। छात्रों के बीच इतनी अधिक संख्या के बीच स्कूल में कोरोना की मास टेस्टिंग की जा रही है। बता दें कोरोना की पहली और दूसरी लहर के दौरान बंद किए के स्कूल हाल ही में फिर से खोले गए थे। यह महाराष्ट्र में अनलॉक के तहत कोरोना से बने हालात बेहतर होने के बाद किए गए थे। 

    नवी मुंबई नगर निगम के एक अधिकारी ने बताया कि, ये आठवीं से 11वीं कक्षा तक के छात्र हैं। उन्होंने कहा,‘‘ इनमें से एक छात्र के पिता नौ दिसंबर को कतर से लौटे थे। वह घनसोली के गोथीवली में परिवार के साथ रहते हैं और उनकी कोविड-19 जांच नेगेटिव आई थी, लेकिन जब उनके परिजन की जांच की गई तो स्कूल में कक्षा 11 में पढ़ने वाला उनका बेटा संक्रमित पाया गया। ”

    अधिकारी ने बताया कि इसके बाद शेतकरी शिक्षण संस्था के सभी छात्रों की जांच की गई और अब तक 16 छात्रों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। उन्होंने कहा, ‘‘पिछले तीन दिन में अब तक स्कूल के 811 छात्रों की जांच की गई और शनिवार को 600 छात्रों की जांच की जाएगी।” ये छात्र वाशी में कोविड देखभाल केन्द्र में भर्ती हैं। 

    मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, नवी मुंबई के एक स्कूल में तकरीबन एक साथ 16 छात्र कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। संक्रमित छात्रों में 8वीं कक्षा से लेकर 11वीं तक के स्टूडेंट्स शामिल हैं। वहीं, इस खबर के बाद प्रशासन के हाथ पैर फूल गए हैं। सुरक्षा के लिहाज से अब स्कूल में बड़े पैमाने पर बच्चों समेत स्टाफ की कोरोना टेस्टिंग करने का फैसला लिया गया है। इस दरम्यान तकरीबन सभी 600 छात्रों का कोरोना टेस्ट किया जाएगा।