Mumbai Local Train Updates : Bombay High Court strict on traveling in Mumbai local trains without vaccination, asked this question to the petitioner
File

    मुंबई: कोरोना (Corona) की दूसरी लहर में देश के सबसे ज़्यादा प्रभावित शहरों में से एक मुंबई (Mumbai) में अनलॉक (Mumbai Unlock) के बाद से शहर में पाबंदियों में ढील गई है। लेकिन हाल ही में कई देशों में सामने आए कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रोन को लेकर देश में भी चिंता बढ़ गई है। महाराष्ट्र सरकार और प्रशसन लोगों से मास्क लगाने और कोविड नियमों का पालन करने की लगातार अपील कर रहे हैं। ऐसे में मुंबई की लाइफलाइन कही जानेवाली लोकल ट्रेन (Mumbai Local Train) में सफर करने वाले यात्रियों के मास्क न लगाने से जुड़े चौंकाने वाले आंकड़े सामने आए हैं।  

    एक रिपोर्ट के अनुसार, अप्रैल से अब तक रेल परिसरों में कोविड प्रोटोकॉल का पालन नहीं करने पर मध्य रेलवे द्वारा प्रतिदिन 102 से अधिक लोगों को पकड़ा गया है और इनपर फाइन भी लगाया गया है। यह आंकड़े बेहद चिंता जनक इसलिए भी हैं क्यूंकि यह ऐसे समय में सामने आए हैं जब सरकार ने कोरोना वायरस के ओमीक्रोन वेरिएंट से खतरे को बहुत गंभीरता से लेना शुरू कर दिया है और राज्य में आने वाले यात्रियों के लिए संशोधित दिशा-निर्देश भी जारी कर दिए हैं।

    रिपोर्ट में एक रेल अधिकारियों ने दावा किया है कि, लोकल ट्रेनों के अंदर यात्रा करने वाले यात्रियों को मास्क नहीं पहने और अन्य कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए देखा गया था जिसके बाद नियम उल्लंघन करने वाले कई लोगों पर कार्रवाई की गई है। आंकड़ों के अनुसार, लगभग 25000 लोगों को कोविड प्रोटोकॉल का पालन नहीं करने के लिए दंडित किया गया है। रिपोर्ट में सेंट्रल रेलवे के एक अधिकारी ने नाम न उजागर करने की शर्त पर बताया, इन यात्रियों पर मास्क नहीं पहनने और कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने के लिए 41.28 लाख रुपये का जुर्माना वसूला जा चूका है।

    वैसे 1 अप्रैल से 30 नवंबर की अवधि के दौरान, टिकट जांच कर्मियों की विशेष टीमों ने कोविड-19 नियम उल्लंघन के कुल 24,944 मामलों में कार्रवाई की और ऐसे लोगों को दंडित किया। बतौर फाइन क्रमशः 41.28 लाख रुपये की राशि जुर्माना के रूप में वसूल की गई है। आंकड़े सामने आने के बाद जानकार मानते हैं कि, अधिकारी रेलवे स्टेशनों पर चेकिंग को कड़ा कर सकता हैं और ऐसे लोगों को पकड़ना जारी रखेंगे जो मास्क नहीं पहनते हैं और अन्य कोविड प्रोटोकॉल का पालन नहीं करते हैं। 

    बता दें कि, कोरोना के चलते आम लोगों के लिए मुंबई लोकल ट्रेन बंद गई थीं। इन्हे 15 अगस्त को पूरी तरह से टीका लगाए गए यात्रियों के लिए सेवाएं फिर से शुरू हुई थीं। इसके तहत यात्रियों को अपना टीकाकरण विवरण दिखाते हुए पंजीकरण करना होगा और ऑनलाइन या ऑफलाइन प्रक्रिया के माध्यम से टिकट प्राप्त करना होगा। गाइडलाइंस के तहत रेलवे स्टेशन और ट्रेनों में यात्रा के दौरान मास्क लगाना अनिवार्य है। यात्रा के दौरान कोरोना नियमों का भी पालन ज़रूरी है।