Mumbai: The man reached out to meet his girlfriend, despite being externed, a rival gang kidnapped and beat him up; Know the whole matter
Representative Photo

    मुंबई: मुंबई पुलिस (Mumbai Police) ने एक हैरान कर देने वाले किडनैपिंग केस (Kidnapping Case) की गुत्थी सुझाई है। पुलिस ने मामले में एक शख्स को गिरफ्तार (Arrest) किया है जब तीन अन्य की तलाश जारी है। दरअसल, एक महिला (Woman) ने पुलिस से उसके बॉयफ्रेंड (Boyfriend) के किडनैप किए जाने की शिकायत की थी जिसके बाद पुलिस ने मामले में आगे की कार्रवाई की। 

    एक रिपोर्ट के अनुसार, 21 वर्षीय सिद्धेश भोसले उर्फ चॉकलेट नाम के शख्स पर कथित तौर पर करीब आधा दर्जन आपराधिक मामलों दर्ज हैं और पिछले साल पुलिस ने उसे मुंबई की सीमा से बाहर रहने यानी की तड़ीपार करने का आदेश जारी किया था। लेकिन इसके बावजूद सिद्देश अपनी गर्लफ्रेंड से मिलने, पुलिस की नज़रों से बचते बचाते मुंबई के दादर इलाके पहुंचा था। लेकिन भाग्य ने उसका साथ नहीं दिया और वह राइवल गैंग के सदस्यों के हत्थे चढ़ गया। 

    रिपोर्ट के मुताबिक, मामला तब सामने आया जब उसकी प्रेमिका ने पुलिस से संपर्क किया। जांचकर्ताओं ने तीन घंटे के भीतर सिद्देश उर्फ़ चॉकलेट को रे रोड से छुड़ाया, जहां उसे बंधक बनाकर पीटा गया था। सिद्देश को गैंग के कुछ सदस्यों ने अपहरण किया जिसके बाद उसे जबरन कार में बिठाकर एक सुमसान जगह पर ले जा कर जम कर पीटा। 

    रिपोर्ट में पुलिस अधिकारी के हवाले से बताया गया है कि, वह रविवार शाम करीब साढ़े सात बजे अपनी प्रेमिका से मिलने आया था, जो माटुंगा रहती है। एक कार में पहुंचे चार लोगों ने चॉकलेट से मारपीट की और जबरदस्ती कार में धकेल दिया। महिला ने चॉकलेट को बचाने की पूरी कोशिश की लेकिन अपहरणकर्ता भाग गए। 19 वर्षीय महिला ने तब माटुंगा पुलिस से संपर्क किया और उन्हें सूचित किया कि वह नहीं जानती कि अपहरणकर्ता कौन थे और बाद में अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई। पुलिस दल हरकत में आया और अपने स्रोतों से विवरण एकत्र करना शुरू किया। अपने सूत्रों के माध्यम से पुलिस को पता चला कि दादर से सात किलोमीटर दूर रे रोड पर एक सुनसान सीमेंट गोदाम में चॉकलेट ले जाया गया था। जब पुलिस की एक टीम मौके पर पहुंची, तो उन्हें एक घायल चॉकलेट और अपहरणकर्ताओं में से एक प्रफुल्ल पाटकर (24) मिला। 

    पुलिस अधिकारी के हवाले से रिपोर्ट में आगे बताया गया है कि, पुलिस की टीमों ने चॉकलेट को बचाया और पाटकर को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी ने चॉकलेट बेल्ट और डंडों से पीटा था जिसके चलते वह गंभीर रूप से घायल हो गया था। चॉकलेट के पूरे शरीर पर सिगरेट के जलने के कई निशान थे। उसे इलाज के लिए बाद में सायन अस्पताल शिफ्ट किया गया था।

    पुलिस ने कहा कि जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि चॉकलेट ने पाटकर के एक सहयोगी को गाली दी थी और धमकाया था जिसके बाद उस पर ये हमला किया गया। पुलिस अधिकारी ने कहा, जब वे चॉकलेट के स्कूटर की जांच कर रहे थे तो उन्हें एक बड़ा चाकू मिला। चॉकलेट के खिलाफ आर्म्स एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। पाटकर और उसके साथियों पर अपहरण और गलत तरीके से संयम बरतने के लिए आईपीसी की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है। पाटकर को इससे पहले हत्या के प्रयास के एक अन्य मामले में गिरफ्तार किया गया था। इस बीच, चॉकलेट को शहर की सीमा में प्रवेश करने के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।