West Bengal: 18 lakh people did not reach on time for second dose of vaccine: report
File Photo

    मुंबई : मुंबई (Mumbai) में 18 वर्ष की आयु से अधिक के नागरिकों का टीकाकरण तेजी से चल रहा है, अधिकांश लोग कोरोना (Corona) की दूसरी डोज (Both Dose) भी ले चुके हैं। लेकिन 18 वर्ष की कम आयु के बच्चों के लिए अभी वैक्सीन (Vaccine) अभी परीक्षण के दौर में है। जल्द ही  छोटे बच्चों के लिए कोविड वैक्सीन उपलब्ध हो जाएगी। केंद्र सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय ने भारत बायोटेक की वैक्सीन को मंजूरी दे दी है। इसलिए बीएमसी (BMC)मुंबई के 2 से 18 वर्ष की आयु वाले 30 लाख बच्चों का टीका लगाने की तैयारी की जा रही है।  

    बीएमसी अधिकारी के अनुसार, बच्चों के लिए कोविड वैक्सीन की मंजूरी मिलने के बाद हमने तैयारी शुरु कर दी है। केंद्र सरकार की तरफ से विस्तृत गाइडलाइन का इंतजार किया जा रहा है। गाइडलाइन आते ही 2 से  3 दिन के भीतर वैक्सीनेशन ड्राइव शुरु कर दिया जाएगा।

    350 वैक्सनेशन केंद्रों पर टीका लगाया जाएगा

    बीएमसी के प्रसूतिगृह और छोटे बच्चों के अस्पताल, बीएमसी के 350 वैक्सनेशन केंद्रों पर छोटे बच्चों को टीका लगाया जाएगा। अधिकारी ने कहा कि बच्चों को टीका लगाने की सीरिंज, निडल शायद दूसरी हो सकती है। निडिल की साइज क्या होगी अभी इसके संदर्भ में जानकारी नहीं है। हमारे पास वैक्सीन को रखने के लिए पहले ही कोल्ड स्टोरेज तैयार है। अधिकारी ने कहा कि छोटे बच्चों को टीका लगाने के लिए अलग तापमान की जरुरत होगी क्या गाइडलाइन के आने के बाद ही पता चल सकेगा। 1500 कर्मचारियों को छोटे बच्चों को टीका लगाने के लिए ट्रेनिंग दिया जाएगा। इसके अलावा निजी अस्पतालों के डॉक्टरों को भी बीएमसी ट्रेनिंग देगी।

    पहले बीएमसी जनजागरण मुहिम चलाएगी

    बच्चों को टीका लगाने के बाद यदि कोई रिएक्शन आया तो पहले से तैयार किए गए पेडियेट्रिक वॉर्ड में उनको भर्ती किया जाएगा। छोटे बच्चों को टीका लगाने से पहले बीएमसी जनजागरण मुहिम चलाएगी। जिन बच्चों पर वैक्सीन का ट्रायल किया गया था उनमें कोई गंभीर रिएक्शन नजर नहीं आया है।