1900 electric buses will run in Mumbai soon, tender issued
File Photo

मुंबई. कोरोना काल में बेस्ट ही यात्रियों का एकमात्र सहारा बनी हुई है. मुंबई की लाइफ लाइन कही जाने वाली लोकल सेवा आम नागरिकों के लिए अभी नहीं शुरू हो पाई है जिसके चलते यात्रियों को रोजाना परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. बेस्ट में बसों की कमी के कारण बेस्ट प्रशासन चाह कर भी यात्रियों को सुविधा नहीं दे पा रहा है. बेस्ट बेड़े में अगले 2 महीनों में 308 इलेक्ट्रिक से चलने वाली बस शामिल हो जाएगी, जिससे यात्रियों को थोड़ी राहत मिलेगी. 

बेस्ट प्रशासन के अनुसार आने वाली इलेक्ट्रिक बसें चरणबद्ध पद्धति से आएगी. अगले 15 दिन में 8 बसें आ जाएंगी. बेस्ट उपक्रम के पास अभी 3500 बसें हैं. अगले मार्च तक बेस्ट की कुल बसों में से 898 बस का जीवन काल खत्म हो जाएगा और बसों को भंगार में भेज दिया जाएगा. बेस्ट प्रशासन ने 1200 मिनी बस भाड़े पर लेने का अनुबंध किया है, जिसमें से मात्र 460 बस ही बेड़े में शामिल हो पाई हैं. कोरोना महामारी की शुरुआत हो जाने के कारण बेड़े में आने वाली बसों के आने में रुकावट पैदा हो गई.

 यात्रियों को भी सुविधा मिलेगी

 बेस्ट ने इलेक्ट्रिक से चलने वाली 346 बस लेने का निर्णय जून महीने में लिया गया था जिसमेंं से 38 बस शामिल हुई थींं. इसमें 6 बस बेस्ट की हैंं, जो कि वातानुकूलित हैंं और 32 मिडी बसें हैंं. इसके अलावा 160 मिडी और 140 एक मंजिली बस नवंबर तक बेस्ट बेड़े में शामिल हो जाएंंगी. बेस्ट बेड़े में भाड़े पर ली गई बस जल्दी आने से बसों की कमी दूर हो जाएगी और यात्रियों को भी सुविधा मिलेगी.