Uttar Pradesh
प्रतीकात्मक तस्वीर

    मुंबई: देश के सबसे बड़े रिसर्च सेंटर मुंबई (Mumbai) में मानखुर्द इलाके के भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र (BARC) के एक 44 वर्षीय वैज्ञानिक (Scientist) ने परिसर के अंदर हीलियम संयंत्र में फंदे से लटककर कथित तौर पर आत्महत्या (Suicide) कर ली। इस खबर ने पुरे सेंटर में सनसनी फैला दी है। पुलिस ने वैज्ञानिक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया और रिपोर्ट आने के बाद दुर्घटनावश मौत का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

    ट्रॉम्बे पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक सिद्धेश्वर गोवे ने बताया कि मृतक वैज्ञानिक का नाम चम्पालाल प्रजापति (44) है और और यह बीएआरसी के तकनीकी भौतिकी विभाग में बतौर वैज्ञानिक काम करते थे और  सुपरकंडक्टर्स में विशेषज्ञता रखता थे और मूल रूप से यह राजस्थान के सुजानगढ़ के रहने वाला थे। लेकिन यह बहुत ही डिप्रेशन में रहते थे और पांच माह से इसका इलाज चल रहा था। घटना वाले दिन इसका शव ऑफिस के बगल में खाली पड़े कार्यालय में लटका हुआ करीब रात 9 बजे देखा गया था। 

    पुलिस को नहीं मिला कोई सुसाइड नोट

    पुलिस के मुताबिक, देर रात घर नहीं आने पर पत्नी ने पति के  सहयोगियों को फोन कर बताया और उन्हें कुछ समय बाद वैज्ञानिक को फंदे से लटका पाया था। पुलिस के अनुसार शव के पास कोई भी सुसाइड नोट नहीं मिला, लेकिन जांच चल रही है।