Devendra Fadnavis
देवेन्द्र फडणवीस

Loading

मुंबई: कांग्रेस (Congress) ने सोमवार को राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) के पास एक शिकायत दायर कर महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) और सोलापुर लोकसभा सीट से भाजपा उम्मीदवार राम सातपुते पर आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन करने (code of conduct violation) का आरोप लगाया। कांग्रेस ने फडणवीस और सातपुते की एक कथित वीडियो बातचीत भी शिकायत के साथ संलग्न की है।
 
इसमें यह दावा किया गया है कि उपमुख्यमंत्री सोलापुर के भाजपा उम्मीदवार के इस अनुरोध से सहमत हो गए हैं कि एक खास समुदाय के लोगों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 353 के तहत दर्ज मामले वापस लेने का मार्ग प्रशस्त किया जाए। यह धारा लोक सेवक को अपने कर्तव्य निर्वहन से रोकने के लिए हमला करना या आपराधिक बल प्रयोग करने से संबद्ध है।

फडणवीस और सातपुते ने इस पर प्रतिक्रिया के लिए उनके मोबाइल फोन पर भेजे गए संदेशों का जवाब अभी नहीं दिया है। कांग्रेस की महाराष्ट्र इकाई के मुख्य प्रवक्ता अतुल लोंढे ने सीईओ को शिकायत पत्र भेजा है, जिसमें वीडियो क्लिप के लिंक को संलग्न किया गया है।  

पत्र में कहा गया है, ‘‘मैं आपका ध्यान मौजूदा लोकसभा चुनाव के दौरान महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और उसके नेताओं, विशेष रूप से उपमुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस और सोलापुर से भाजपा उम्मीदवार राम सातपुते द्वारा आदर्श आचार संहिता का गंभीर उल्लंघन किए जाने की ओर आकर्षित करने के लिए पत्र लिख रहा हूं।  

पत्र के अनुसार, ‘‘वीडियो साक्ष्य के माध्यम से, यह मेरे संज्ञान में आया है कि सातपुते ने आईपीसी की धारा 353 के तहत मामलों को वापस लेने में सहायता के लिए फडणवीस से बात की। आश्चर्यजनक रूप से, फडणवीस इसके लिए सहमत हो गए जो सत्ता और पद के दुरुपयोग का संकेत देता है। इस तरह का कृत्य आचार संहिता का स्पष्ट उल्लंघन । सोलापुर लोकसभा सीट पर पूर्व केंद्रीय गृह मंत्री सुशील कुमार शिंदे की बेटी एवं कांग्रेस विधायक प्रणिती शिंदे भी चुनाव मैदान में हैं। इस सीट का प्रतिनिधित्व अभी भाजपा कर रही है।  

(एजेंसी)