kidnapper of 5 Year old girl

Loading

  • धारावी से किडनैप 5 वर्षीय लड़की कल्याण से रेस्क्यू
  • सीसीटीवी फुटेज की मदद से 300 लोगों से पूछताछ
  • बिहारी अपहरणकर्ता गोवंडी से गिरफ्तार
  • पुलिस की सतर्कता से बची बच्ची की जान 

मुंबई: मुंबई की धारावी पुलिस (Dharavi Police) को एक बड़ी कामयाबी मिली है। धारावी पुलिस ने दुष्कर्म से पहले किडनैपर के चंगुल से 5 साल (Year) की बच्ची को छुड़ाने में सफलता हासिल की है। पुलिस ने महज 24 घंटे के अपने ऑपरेशन में 5 साल की लड़की को कल्याण से सुरक्षित रेस्क्यू (Rescue) कर, अपहरणकर्ता (Kidnapper) को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस फिलहाल ये पता करने में लगी है कि आरोपी ने इससे पहले और कितने बच्चों को अगवा किया है। आरोपी मूल रूप से बिहार के सीतामढ़ी का रहने वाला है। जो मुंबई के गोवंडी इलाके में रहता है। धारावी आकर उसने बच्ची का अपहरण गलत इरादे से किया था।  

 
आरोपी गोवंडी की एक फैक्ट्री में काम करता है
पुलिस के मुताबिक आरोपी नशे में धुत था और उसने गलत इरादे से लड़की का किडनैप किया था। पुलिस उपायुक्त (जोन-5) तेजस्वी सातपुते के मार्गदर्शन में धारावी पुलिस ने सही समय पर पहुचंकर बच्ची को किडनैपर से आज़ाद करा लिया। पुलिस ने आरोपी की पहचान रजब शब्बीर शाह (32) के रूप में की है। आरोपी बिहार राज्य के सीतामढ़ी जिले का रहने वाला है और गोवंडी की एक फैक्ट्री में काम करता है। 
 
 
पुलिस ने तुरंत बनाई टीम 
पुलिस के मुताबिक शिकायतकर्ता की उम्र 38 साल है और वह जरी का कारोबार करता है। पुलिस को दी शिकायत में उन्होंने बताया कि उनकी 5 साल की बेटी को धारावी के 90 फीट रोड पर हेरिटेज ग्राउंड के पास खेल रही थी। अपहरणकर्ता उसे बहला-फुसलाकर वहीं ले गया था। पुलिस ने तुरंत एफआईआर दर्ज कर जांच के लिए एक अलग टीम बनाई। पुलिस ने जब उस इलाके के सीसीटीवी फुटेज चेक किए तो लड़की को एक अनजान शख्स के साथ सायन स्टेशन की तरफ जाते हुए देखा गया। 
 
बच्ची को छोड़ आरोपी फरार हो गया था
आरोपी को रेलवे स्टेशन जाते देख सभी रेलवे पुलिस और ठाणे पुलिस को इसकी जानकारी दी गई। इस बीच अपहरणकर्ता को पता चल गया कि पुलिस उसके पीछे लग चुकी है। आनन फानन में उसने बच्ची को सड़क पर ही छोड़ दिया। जिसके बाद बच्ची कल्याण तालुका पुलिस स्टेशन की सीमा में मिली, पुलिस ने लड़की को तो बचा लिया। लेकिन आरोपी फरार हो गया था। धारावी पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक राजा बिरकर ने बताया कि पुलिस ने सीसीटीवी में दिखे शख्स की फोटो खींची और करीब 300 लोगों से पूछताछ की तो पता चला कि आरोपी गोवंडी का रहने वाला है। आगे की जांच चल रही है कि उसने इस तरह कितने और लोगों को अगवा किया है।