Photo (ANI)
Photo (ANI)

    मुंबई: मुंबई (Mumbai) में हो रही बारिश (Rain) से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। मुंबई के साथ ही महाराष्ट्र (Maharashtra) के 12 जिलों में भारी बरसात से रेलवे ट्रैक पर पानी भरने से रेल यातायात प्रभावित हो गया है। 

    स्कूल जाने वाले विद्यार्थियों को मुश्किल का सामना करना पड़ा। लोकल ट्रेन देरी से चलने के कारण यात्रा करने वाले यात्रियों परेशानी का सामना करना पड़ा। बारिश के कारण मुंबई में जनजीवन अस्त -व्यस्त हो गया है।

    मुंबई में ऑरेंज एलर्ट 

    दहिसर, बोरीवली, कांदिवली, मलाड, गोरेगांव, जोगेश्वरी, अंधेरी, खार, सांताक्रुज, विले पार्ले, दादर और बांद्रा में भारी बारिश हुई है। मौसम विभाग के अनुसार, अगले पांच दिन राज्य के लिए अहम होंगे क्योंकि हर जगह बारिश तेज हो गई है। आईएमडी ने मुंबई सहित महाराष्ट्र के 12 जिलों में भारी बारिश की चेतावनी दी है। मौसम विभाग ने मुंबई,उपनगरों के लिए ऑरेंज एलर्ट जारी किया है। राज्य के मध्य महाराष्ट्र, पुणे, सतारा, कोल्हापुर, नासिक और नंदुरबार जिलों को चेतावनी जारी की गई है। इस बीच, मराठवाड़ा के कुछ हिस्सों में आज 30 से 40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से तेज हवाएं और मूसलाधार बारिश होने की संभावना है। साथ ही 6 और 7 जुलाई को मराठवाड़ा में मूसलाधार बारिश की चेतावनी दी गई है।

     …तो और भी बढ़ सकती है परेशानी 

    मुंबई में 4 जुलाई को सुबह 8 बजे से 5 जुलाई को सुबह 8 बजे तक मुंबई शहर में 95.81 मिमी, पूर्व उपनगर में 115.09 मिमी और पश्चिमी उपनगर में 116.73 मिमी बारिश हुई। मंगलवार शाम 4.10 बजे हाइईटाइड शुरु होकर रात 10 बजे से 21 बजे तक समाप्त होगा। यदि इस दौरान तेज बारिश हुई तो और भी परेशानी बढ़ सकती है।

    नदियां उफान पर 

    ओडिशा के पास बना निम्न दबाव का क्षेत्र सोमवार को छत्तीसगढ़ में स्थिर हो गया। पश्चिमी तट पर एक कम दबाव का क्षेत्र सक्रिय होने के कारण राज्य में अतिवृष्टि की चेतावनी जारी की गई है।महाराष्ट्र, मुंबई, रायगढ़, कोल्हापुर और कोंकण में भारी बारिश हो रही है। रत्नागिरी जिले में जगबुडी नदी और रायगढ़ जिले में सावित्री नदी खतरे के निशान को पार कर चुकी है। भारी बारिश को देखते हुए कोंकण में एनडीआरएफ की इकाइयों को तैनात किया गया है। प्रशासन ने किसानों के साथ नौकरीपेशा वालों को सावधानी बरतने की अपील की है।