एचआईवी मरीजों में खोजेंगे हाइपरटेंशन और डायबिटीज, एक छत के नीचे उपचार और दवाई

    सूरज पांडे

    मुंबई. मुंबई (Mumbai) में एचआईवी (HIV) के साथ जी रहे लोगों में अब मुंबई जिला एड्स नियंत्रण सोसाइटी (एमडैक्स) हाइपरटेंशन (Hypertension) और डायबिटीज (Diabetes) की खोज मुहिम शुरू करेगी। यदि किसी व्यक्ति में उक्त स्वास्थ्य समस्याओं की पुष्टि होती है तो उसका एक छत के नीचे सारा उपचार मिलेगा।

    मुंबईकरों में डायबिटीज और हाइपरटेंशन की समस्या बढ़ती जा रही है। विभिन्न मुहिम के तहत महानगरपालिका मुंबईकरों की स्क्रीनिंग करती है, लेकिन एचआईवी मरीजों की निरंतर जांच नहीं होती है। मुंबई में कुल 36300 लोग हैं जो एचआईवी के साथ जी रहे हैं। इसमें से 35071 मरीज 18 से अधिक उम्र के हैं। एमडैक्स की संयुक्त निदेशक डॉ. श्रीकाला आचार्य ने बताया कि इससे पहले एचआईवी संक्रमितों की हाइपरटेंशन और डायबिटीज की जांच नियमित नहीं होती थी। हमने देखा है कि लोगों में डायबिटीज और हाइपरटेंशन की समस्या बढ़ रही है, इसी के मद्देनजर हमने वयस्क एचआईवी संक्रमितों की निरंतर टेस्टिंग करने का निर्णय लिया है।

    जांच में हाइपरटेंशन या डायबिटीज की पुष्टि होती है तो उन्हें आगे के इलाज के लिए गाइड किया जाएगा। मरीजों को एक अस्पताल से दूसरे अस्पताल का चक्कर नहीं काटना पड़ेगा। हमने उन्हें एक ही छत के नीचे जांच से दवाई तक मुहैया कराने की योजना बनाई है। एआरटी केंद्र पर एचआईवी के साथ-साथ हाइपरटेंशन और डायबिटीज की दवाई भी मिलेगी।

    - -डॉ. श्रीकला आचार्य, संयुक्त निदेशक (एमडैक्स)