Dussehra Rally CM thakare

    मुंबई: शिवसेना अध्यक्ष और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Maharashtra Chief Minister Uddhav Thackeray) ने बीजेपी (BJP)के हिंदुत्व को दिखावटी करार दिया है। शुक्रवार को पार्टी की दशहरा रैली (Dussehra Rally) पर षणमुखानंद हॉल में आयोजित कार्यक्रम में उद्धव, बीजेपी के खिलाफ जम कर गरजे। उन्होंने कहा कि हमारे लिए हिंदुत्व का मतलब राष्ट्रीयता है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि देश को असली हिंदुत्व से धोखा नहीं है। उन्होंने बीजेपी पर वार करते हुए कहा कि इन दिनों हिंदुत्व (Hindutva) की जो नई परिभाषा गढ़ी जा रही है, उससे देश को धोखा है। 

    उन्होंने आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत (RSS Chief Mohan Bhagwat) से माफ़ी मांगते हुए कहा कि मैं आप पर टीका टिप्पणी नहीं कर रहा हूं, लेकिन हमारे लिए हिंदुत्व का मतलब राष्ट्र प्रेम है। सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि शिवसेना प्रमुख बाल ठाकरे ने कहा है कि पहले हम देशवासी हैं, उसके बाद धर्म आता है। उन्होंने उत्तर प्रदेश के लखीमपुर में किसानों को कुचले जाने को लेकर भी मोहन भागवत से सवाल किया। 

    समाज सेवा ही हिंदुत्व है

    सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि आपका मानना है कि हमारे पूर्वज एक है। ऐसे में लखीमपुर में कार से कुचले गए किसानों के पूर्वज कौन हैं। क्या इस तरह के हिंदुत्व से आपसे सहमत हैं। उन्होंने उत्तर प्रदेश में कानून-व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए कहा कि अगर आप मुंबई पुलिस को माफिया कहते हैं तो फिर यूपी की पुलिस को क्या कहेंगे। उद्धव ने कहा कि शिवसेना के हिंदुत्व पर सवाल उठाना, एक तरह से नामर्दगी है। मैं बताना चाहता हूं कि समाज सेवा ही हिंदुत्व है। रक्तदान करते समय हम धर्म, जात के बारे में नहीं सोचते हैं। 

    जांच एजेंसियों का डर नहीं चलेगा 

    सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि केन्द्रीय जांच एजेंसियों का डर दिखा कर महाराष्ट्र विकास आघाडी सरकार को डराया नहीं जा सकता है। उन्होंने बीजेपी नेताओं को चुनौती देते हुए कहा कि अगर उनमें हिम्मत है तो वे शिवसेना की अगुवाई में बनी सरकार को गिरा कर दिखाएं। उद्धव ने ड्रग्स मामले में फिल्म एक्टर शाहरुख़ खान के बेटे की गिरफ़्तारी को लेकर भी केंद्र सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि सिर्फ पब्लिसिटी के लिए एक सेलिब्रेटी को निशाना बनाया जा रहा है। 

    बाबरी मस्जिद गिराने के बाद डरकर छुपे हुए थे

    सीएम उद्धव ठाकरे ने बीजेपी नेताओं पर तंज कसते हुए कहा कि बाबरी मस्जिद गिराने के बाद कई लोग डर कर छुप गए थे। ऐसे समय में शिवसेना प्रमुख ने बाल ठाकरे ने कहा था कि गर्व से कहो, हम हिन्दू हैं और लोगों को शक्ति दी थी। मुंबई में जब दंगा हुआ तब भी शहर को शिवसेना ने बचाया था। उन्होंने कहा कि जब भी देश में हिंदुत्व खतरे में पड़ा तो शिवसेना ने ही इसकी रक्षा की है।   

    पुलिस के पहरे से निकल कर बात करो 

    उद्धव ने केन्द्रीय मंत्री नारायण राणे समेत अपने अन्य राजनीतिक विरोधियों से कहा कि यदि वे शिवसेना को चैलेंज करना चाहते हैं तो पुलिस के पहरे से बाहर निकल कर बात करें। उन्होंने कहा हमारी आवाज न कोई दबा पाया है और न कोई दबा पाएगा। सीएम उद्धव ठाकरे ने शिवसैनिकों से कहा कि शस्त्र की पूजा के बाद मैंने आप सभी की पूजा की, क्योंकि आप मेरे असली शस्त्र हो। 

    बीजेपी का बर्ताव नाकाम आशिक की तरह 

    शिवसेना अध्यक्ष ठाकरे ने नेता विपक्ष देवेन्द्र फडणवीस पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर आपने शिवसेना से अपना वादा नहीं तोड़ा होता तो आप भी आज नहीं तो कल मुख्यमंत्री होते, लेकिन आपने अपना वादा तोड़ दिया। इसलिए मुझे मुख्यमंत्री पद की जिम्मेदारी स्वीकार करनी पड़ी। उन्होंने कहा कि मुझे कभी नहीं लगा कि मैं राज्य के मुख्यमंत्री के रूप में काम कर रहा हूं। मैं जनता के सेवक की तरह लोगों की सेवा में जुटा हूं। सीएम उद्धव ठाकरे ने देवेन्द्र पर तंज कसते हुए कहा कि सत्ता की भूख में कुछ लोगों की हालत ड्रग्स एडिक्शन जैसी हो गई है। उन्होंने कहा कि जैसे प्यार में एक आशिक रिजेक्ट होने पर एसिड फेंक देता है, वैसा ही कुछ बीजेपी भी कर रही है। वो हमारी सरकार को इसलिए बदनाम कर रही है क्योंकि उसे रिजेक्ट कर दिया गया है। 

    बीजेपी में जाने के बाद चैन की नींद 

    शिवसेना अध्यक्ष ने बीजेपी में गए हर्षवर्धन पाटिल के उस बयान पर भी चुटकी ली, जिसमें उन्होंने कथित रूप से कहा है कि बीजेपी में जाने के बाद उन्हें जांच एजेंसियों का डर नहीं सता रहा है और वे कुम्भकर्ण की तरह चैन की नींद सो रहे हैं।