Aaditya Thackeray

    मुंबई / पटना : उद्धव ठाकरे की पार्टी के युवा नेता आदित्य ठाकरे (Aditya Thackeray) बिहार (Bihar) के सीएम नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) और डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव (Deputy CM Tejashwi Yadav) से मिलने के लिए पटना पहुंचे। इस दौरान जब मीडिया ने आदित्य से पूछा कि मुंबई में बिहारियों पर हमले होते हैं। इसके जवाब में उन्होंने कहा कि यह हमला बीजेपी वाले कराते हैं।  इस मौके पर पर आदित्य ने अपनी बिहार यात्रा को काफी सफल बताया। उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव से उनकी यह पहली मुलाकात है। आदित्य ने कहा कि यह कोई राजनीतिक मुलाकात नहीं है। उन्होंने कहा कि ये दोस्ती आगे भी चलेगी। उन्होंने सभी युवाओं को एक साथ आने का आवाहन किया। आदित्य ठाकरे के साथ राज्यसभा सांसद प्रियंका चतुर्वेदी और अनिल देसाई भी मौजूद रहे। 

    कई विषयों पर चर्चा

    आदित्य ठाकरे ने कहा कि उन्होंने बिहार के सीएम नीतीश कुमार और डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव के साथ पर्यावरण और विकास समेत कई अलग मुद्दों पर चर्चा की है। उन्होंने कहा कि आज देश में महंगाई और बेरोजगारी की समस्या से निपटने के लिए युवा नेताओं को एक साथ मिलकर काम करने की जरूरत है। 

    सुशांत की मौत को नहीं भूल सकते

    बीजेपी प्रवक्ता निखिल आनंद ने आदित्य ठाकरे के बिहार दौरे पर सवाल उठाते हुए कहा कि जिस तरह की रहस्यमय परिस्थितियों में मुंबई में फिल्म एक्टर  सुशांत सिंह राजपूत और उनकी पूर्व पीआर दिशा सालियान की मौत हुई थी। उसे भुलाया नहीं जा सकता है। आनंद ने कहा कि उस दौरान आदित्य ठाकरे, संजय राउत और तत्कालीन सीएम उद्धव ठाकरे ने जिस तरह का बर्ताव किया था, वह बेहद दुखद था। उन्होंने कहा कि तेजस्वी यादव को बिहार विरोधी मानसिकता वाले नेताओं का बहिष्कार करना चाहिए था।