Jagtap took command of Mumbai Congress

  • प्रभारी पाटिल, थोरात और चव्हाण समेत कई वरिष्ठ नेता रहे मौजूद

मुंबई. सोमवार (Monday) को कांग्रेस पार्टी (Congress Party) के स्थापना दिवस पर मुंबई कांग्रेस के ( Mumbai Congress) के नवनियुक्त अध्यक्ष भाई जगताप (Bhai Jagtap) और कार्यकारी अध्यक्ष चरण सिंह सप्रा (Charan Singh Sapra) समेत सभी पदाधिकारियों ने कार्यभार संभाल लिया।

इस मौके पर निर्वतमान अध्यक्ष एकनाथ गायकवाड़ (Eknath Gaikwad) के अलावा प्रदेश प्रभारी एच. के.पाटिल (H.K.Patil), प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बाला साहेब थोरात, पीडब्ल्यूडी मंत्री अशोक चव्हाण, प्रदेश कांग्रेस के सह प्रभारी आशीष दुआ, माणिक राव ठाकरे, कैबिनेट मंत्री असलम शेख़, वर्षा गायकवाड़ समेत कई नेता मौजूद थे।

शिवसेना का दख़ल बर्दाश्त नहीं

पूर्व मंत्री और प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष  नसीम खान ने अपने भाषण में कहा कि यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी के बारे में शिवसेना के दखल को किसी वही कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा, उन्होंने साफ तौर से कहा कि शिवसेना यूपीए का सदस्य नहीं है। ऐसे में उन्हें इस बारे में बोलने की कोई जरूरत नहीं है। नसीम ने कहा कि महाराष्ट्र में शिवसेना के साथ सरकार का गठन सिर्फ न्यूनतम साझा कार्यक्रम के आधार पर हुआ है। ऐसे में बेहतर होगा कि शिवसेना उस पर की गई बात पर कायम रहे। उन्होंने हाल ही में कांग्रेस नगरसेवकों के एनसीपी में शामिल होने को लेकर भी सहयोगी दलों को आगाह किया। नसीम ने कहा कि इस तरह दूसरे दलों के नेताओं को पार्टी में शामिल करने से पहले कांग्रेस के सीनियर नेताओं से बात की जानी चाहिए।

सरकार से पहले पार्टी का सम्मान 

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बालासाहेब थोरात ने नसीम खान को आश्वस्त किया कि शिवसेना की अगुवाई में बनी सरकार में वे पार्टी के सम्मान को बनाए रखने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार से पहले हमारे लिए पार्टी अध्यक्ष का सम्मान ज्यादा सर्वोपरि है। थोरात ने नए मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष भाई जगताप समेत बाकी सभी नेताओं को बीएमसी चुनाव में बेहतर सफलता हासिल करने के लिए काम करने की शुभकामनाएं दी। उन्होंने मुंबई कांग्रेस को प्रदेश कांग्रेस की तरफ से हरसंभव मदद का भरोसा दिया है।

बीजेपी को दो मुंहतोड़ जवाब

पीडब्लूडी मंत्री अशोल चव्हाण ने बीजेपी पर हमला करते हुए कहा कि इस पार्टी के नेता कांग्रेस की नीतियों को हाईजैक करने की कोशिश कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि बीजेपी नेताओं को पता होना चाहिए कि वे राजनीति के जिस स्कूल में पढ़ रहे हैं, वहां कांग्रेस के नेता हेडमास्टर रह चुके हैं। चव्हाण ने मजाकिया लहजे में कहा कि नए मुंबई कांग्रेस अध्यक्ष भाई जगताप मुम्बई के वे भाई नहीं हैं, जो अपना काम जोर-जबरदस्ती से करवाते हैं। हालांकि उन्होंने बीजेपी की तरफ इशारा करते हुए कहा कि यदि कोई जोर जबरदस्ती के लहजे में पेश आता है तो उसका जवाब उसी अंदाज में दिया जाएगा। चव्हाण ने भाई जगताप से कहा कि उन्हें डरने की कोई जरूरत नहीं है। महाराष्ट्र में कांग्रेस की सरकार है।

एकजुट होकर करें काम

प्रदेश कांग्रेस प्रभारी एच. के.पाटिल ने मुंबई कांग्रेस के सभी नेताओं को एकजुट होकर काम करने की अपील की। उन्होंने कहा कि निजी हित से ऊपर पार्टी का हित होना चाहिए।

सभी सीटों पर लड़ेंगे चुनाव

मुम्बई कांग्रेस अध्यक्ष का पदभार लेने के बाद अपने पहले भाषण में भी जगताप ने कहा कि हमें बीएमसी की सभी 227 वार्ड में चुनाव लड़ने की अनुमति मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि मुंबई कांग्रेस की नई टीम पूरी मजबूती के साथ बीएमसी का चुनाव लड़ेगी।