gosavi-and-aryan-khan

    मुंबई. सुबह की बड़ी खबर के अनुसार मुंबई क्रूज ड्रग्स केस (Cruise Drug Case) में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) के एक विवादित गवाह किरण गोसावी (Kiran Gosavi) को अब पुलिस ने गिरफ्तार (Arrest) कर लिया है। जी हाँ इस बाबत, पुणे पुलिस ने गोसावी की गिरफ्तारी की पुष्टि भी कर दी है। बता दें कि गोसावी पर धोखाधड़ी के कई मामले भी दर्ज हैं और उसी में से एक मामले में पुलिस को उसकी तलाश भी थी। वहीं पुणे पुलिस के मुताबिक, गोसावी को बीती देर रात गिरफ्त में ले लिया गया है।

    दरअसल किरण गोसावी के खिलाफ पुणे के फरसखाना थाने में धोखाधड़ी का एक केस दर्ज है। ये 2018 का मामला बताया जा रहा है। इतना ही नहीं उसके खिलाफ लुक आउट नोटिस भी जारी किया गया जा चूका था। इस मामले में वो कई दिनों से फरार भी चल रहा था। जानकारी के मुताबिक गोसावी को पकड़ने के लिए पुणे पुलिस की दो टीम उत्तरप्रदेश भी गई थी। 

    पुलिस की मानें तो 2018 में किरण गोसावी और शेरबानो कुरैशी ने पुणे के चिन्मय देशमुख नाम के युवक को मलेशिया में नौकरी दिलाने का बड़ा झांसा दिया था। इसी झांसे में उक्त युवक से इन लोगो ने 3 लाख रुपये भी ठग लिए थे। जहाँ इस इस मामले में पुणे पुलिस ने शेरबानो कुरैशी को मुंबई से पहले ही गिरफ्तार कर चुकी थी, वहीं अब गोसावी भी पुलिस के शिकंजे में फंस चूका है। बता दें कि ये किरण गोसावी वही शख्स है जो आर्यन खान के साथ ली अपनी एक सेल्फी को लेकर चर्चा में आया था। वहीं आर्यन खान के केस में गोसावी NCB का अहम् गवाह भी है।

    गिरफ्तारी के पहले गोसावी ने कही ये बात 

    हालाँकि अपनी गिरफ्तारी के पहले आर्यन खान मामले पर किरण गोसावी ने कहा कि,”प्रभाकर सेल साफ़ झूठ बोल रहा है। मैं बस इतना अनुरोध करना चाहता हूं कि उसकी CDR रिपोर्ट जारी की जानी चाहिए। इसके साथ ही मेरी CDR रिपोर्ट या चैट भी जारी की जा सकती है। इसके साथ ही प्रभाकर सेल और उनके भाई की भी CDR और चैट दिखाई जानी चाहिए, सब कुछ इससे साफ़ हो जाएगा।”