Dr Babasaheb Ambedkar

    मुंबई: डॉ. बी. आर. आंबेडकर की पुण्यतिथि (महापरिनिर्वाण दिवस) पर छह दिसंबर को हजारों अनुयायियों के मध्य मुंबई के दादर में चैत्य भूमि आने की उम्मीद है, इसलिए शहर की पुलिस ने शनिवार से यातायात प्रतिबंध और मार्ग परिवर्तन का फैसला किया है। इस संबंध में एक अधिकारी ने यह जानकारी दी।

    पुलिस के अनुसार, शनिवार से लोग डॉ. आंबेडकर को श्रद्धांजलि देने के लिए शहर में पहुंचने लगेंगे और उनमें से अधिकतर के मंगलवार तक यहां रहने की संभावना है। यातायात पुलिस के एक अधिकारी ने कहा, ‘‘चैत्य भूमि के आसपास बड़े पैमाने पर भीड़ को देखते हुए, यातायात की आवाजाही को आसपास की सड़कों की ओर मोड़ दिया जाएगा। 

    यातायात के सुचारू प्रवाह को सुनिश्चित करने के लिए शनिवार दोपहर से मंगलवार तक कुछ प्रतिबंध लगाए जाएंगे।”पुलिस ने बृहस्पतिवार को बताया कि इन अस्थायी परिवर्तनों के तहत दादर पश्चिम में एस. के. बोले रोड, सिद्धि विनायक जंक्शन से हनुमान मंदिर तक एकतरफा मार्ग खुला रहेगा और मंदिर से कोई प्रवेश नहीं होगा। भवानी शंकर रोड, हनुमान मंदिर या दादर कबूतरखाना से गोखले रोड दक्षिण से लगने वाले चौक तक एक ही मार्ग यातायाता के लिए खुला रहेगा। बेस्ट बसों और आपातकालीन या जरूरी सेवाओं को छोड़कर किसी वाहन का कोई प्रवेश नहीं होगा।

    सिद्धि विनायक जंक्शन से हिंदुजा अस्पताल तक एसवीएस रोड सभी वाहनों के यातायात के लिए बंद रहेगा और स्थानीय निवासी हिंदुजा अस्पताल से रोड नंबर पांच, यानी पांडुरंग नाइक मार्ग चौक तक जा सकते हैं। बेस्ट बसों को छोड़कर, अन्य सभी भारी वाहनों और मालवाहकों को माहिम जंक्शन से मोरी रोड होते हुए सेनापति बापट रोड की ओर मार्ग परिवर्तित किया जाएगा।  

    भारतीय संविधान के मुख्य शिल्पकार डॉ. आंबेडकर का अंतिम संस्कार चैत्य भूमि पर किया गया था। समाज सुधारक को श्रद्धांजलि देने के लिए बड़ी संख्या में लोग यहां आते हैं। (एजेंसी)