Mulund PPE kits turned out to be doctors

मुंबई. यूं तो सेंटा (Santa ) लांग रंग के पोषाक और टोपी में नजर आते है, लेकिन मनपा के मुलुंड स्थित कोविड केअर सेंटर ( Kovid Care Center in Mulund) में सेंटा सफेद पीपीई किट, मास्क में दिखाई दिए. यह सेंटा कोई और नहीं, बल्कि अस्पताल के डॉक्टर (Doctor) ही थे, जिन्होंने कोरोना संक्रमित बच्चों के चेहरों पर खुशी लाने के लिए क्रिसमस सेलिब्रेशन (Christmas Celebration) किया.

कोरोना से संक्रमित व्यक्ति से हर कोई कन्नी काटता है, क्योंकि उसके संपर्क में आने अन्य लोग भी संक्रमित हो सकते हैं. मरीजों चाहे बच्चे को या बड़े उन्हें अस्पताल में अकेले ही रहना पड़ता है. ऐसे में उनके अकेलापन, तनाव और चिंता को दूर करने के लिए मनपा ने स्मार्ट फोन का इंतजाम किया ताकि वें अपने परिजनों से बात कर सके. तनाव (Tension)N को दूर करने के लिए काउंसिलिंग का भी इंतजाम किया गया है.

 

 क्रिसमस सेलिब्रेट किया गया

इसी कड़ी में नन्हें मरीजों को खुश करने के लिए मुलुंड स्थित जंबो कोविड केअर सेंटर क्रिसमस सेलिब्रेट किया गया. डॉक्टरों ने सेंटर में भर्ती बच्चों के लिए केक लाया और उन्हें और अन्य मरीजों को चॉकलेट भी बांटे. कोविड केअर सेंटर के अधीक्षक डॉ. प्रदीप आंग्रे ने बताया कि बड़े तो अपना मन बहला लेते है, लेकिन बच्चों को खुश करने के लिए हमारे डॉक्टरों उक्त आयोजन किया. गौरतलब है कि दीपावली में भी कुछ जंबो कोविड केअर सेंटर में मरीजों को खाद्य सामग्री बांटी गई थी.