Mumbai Police arrested a vicious thief, has done 215 thefts so far including the house of underworld don Chhota Rajan's sister
प्रतीकात्मक तस्वीर

    मुंबई: भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) (Anti Corruption Bureau) ने शुक्रवार देर रात जाल बिछाकर मुंबई अपराध शाखा (Mumbai Crime Branch) की प्रॉपर्टी सेल (Property Cell) से जुड़े एक 45 वर्षीय सहायक पुलिस निरीक्षक (Assistant Police Inspector) को कथित तौर पर 2 लाख रुपये की रिश्वत (Bribe) मांगने और स्वीकार करने के आरोप में गिरफ्तार (Arrest) किया है। नागेश पुराणिक नाम के एपीआई के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धारा 7 के तहत मामला दर्ज किया गया है। 

    एक रिपोर्ट के मुताबिक, एसीबी के एक अधिकारी ने कहा कि, मामले में शिकायतकर्ता लग्जरी कार चोरी के एक आरोपी की पत्नी है जिसकी जांच पुराणिक कर रहे थे। उसके पति का दोस्त भी इस मामले में एक आरोपी है। पुराणिक ने शिकायतकर्ता से उनके खिलाफ कार्रवाई को रोकने के लिए 12 लाख रुपये मांगे थे। 

    महिला ने 4 लाख रुपये का भुगतान किया, लेकिन वह उसे शेष राशि की मांग करने की धमकी देता रहा। जब शिकायतकर्ता ने कहा कि वह 8 लाख रुपये का भुगतान नहीं कर सकती है, तो पुराणिक 4 लाख रुपये और मिलने के बाद मामले को निपटाने के लिए तैयार हो गया। शुक्रवार को जब महिला पैसे देने पहुंची तब एसीबी ने जाल बिछा कर उसे पुलिस अधिकारी को गिरफ्तार कर लिया।