Ajit Pawar

    मुंबई. महाराष्ट्र विधान मंडल के चल रहे बजट सत्र (Budget Session) के दौरान गुरुवार को विधान परिषद में राज्यपाल (Governor) के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पारित किया गया। इस मौके पर उपमुख्यमंत्री अजीत पवार (Deputy Chief Minister Ajit Pawar) ने कहा कि कोरोना (Corona) महामारी के दौरान केंद्र सरकार (Central Government) से राज्य सरकार (State Government) को अपेक्षित आर्थिक सहायता नहीं मिली, लेकिन अब वे इस पर विवाद खड़ा नहीं करना चाहते हैं। 

    उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र सरकार ने कोरोना महामारी का काफी मजबूती से सामना किया है। पवार ने कहा कि अभी कोरोना का संकट पूरी तरह से टला नहीं है। ऐसे में सभी लोगों को कोरोना नियमों का पालन करते हुए आवश्यक सावधानी बरतने की जरुरत है।

    CM ठाकरे समेत कुछ नेताओं को नहीं हुआ कोरोना

    उपमुख्यमंत्री पवार ने कहा कि कोरोना से महाराष्ट्र विकास आघाड़ी सरकार में शामिल कई मंत्री और विधायक कोरोना से संक्रमित हुए हैं। इसमें मैं भी शामिल रहा हूं। पवार ने मजाकिया लहजे में कहा कि यह ख़ुशी की बात है कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे, विधान परिषद के सभापति रामराजे नाईक निम्बालकर और नेता विपक्ष प्रवीण दरेकर अभी तक कोरोना से संक्रमित नहीं हुए हैं। उन्होंने कहा कि पिछले साल जब कोरोना वायरस पहली बार अस्तित्व में आया था, तो लोग इससे काफी डरे हुए थे। हालांकि पिछले एक साल में स्थिति बदली है और अब कोरोना होने पर लोग ज्यादा घबराते नहीं हैं।

    राज ठाकरे पर तंज

    पवार ने मनसे अध्यक्ष राज ठाकरे का नाम न लेते हुए कहा कि कुछ नेता ऐसे भी हैं कि जो सरकार के आदेश के बावजूद मास्क नहीं पहनते हैं। ऐसे नेताओं को कोरोना की गंभीरता का एहसास होना चाहिए। उन्होंने कहा कि नेता विपक्ष दरेकर पहले इस नेता की पार्टी में रह चुके हैं।

    पेट्रोल-डीजल मूल्यवृद्धि पर केंद्र सरकार की खिंचाई

    उपमुख्यमंत्री पवार ने देश में पेट्रोल-डीजल मूल्यवृद्धि पर केंद्र सरकार की खिंचाई की। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह सरकार के समय इंटरनेशनल मार्केट में कच्चे तेल की कीमत ज्यादा होने के बावजूद पेट्रोल का मूल्य 70  रुपए प्रति लीटर था, लेकिन आज इंटरनेशनल मार्केट में कच्चे तेल की कीमत कम होने के बावजूद पेट्रोल 100 रुपए प्रति लीटर बिक रहा है। पवार ने कहा कि पेट्रोल- डीजल मूल्यवृद्धि की एक बड़ी वजह केंद्र सरकार द्वारा लगाया गया टैक्स है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा इस बारे में सहूलियत देने के बारे में वे 8 मार्च को बजट में घोषणा करेंगे।

    कोरोना से निपटने में करप्शन

    विधान परिषद में नेता विपक्ष प्रवीण दरेकर ने राज्यपाल के अभिभाषण प्रस्ताव पर उपमुख्यमंत्री अजीत पवार के संबोधन का स्वागत किया, लेकिन उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के दौरान मास्क और वेंटिलेटर समेत कई चीजों की खरीदी तय कीमत से ज्यादा में की गई थी। ऐसे में इसकी जांच की जानी चाहिए।   

    शर्जिल पर मामला दर्ज

    उपमुख्यमंत्री पवार ने कहा कि पुणे में विवादित भाषण देने के मामले में शर्जिल उस्मानी के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। उन्होंने कहा कि इस मामले में कानून के तहत शर्जिल के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी। पवार ने कहा कि ऐसी रिपोर्ट है कि शर्जिल उत्तर प्रदेश चला गया है।