In Greece, people will be able to do corona test at home by themselves, the test kits are being distributed
Representative Image

  • धारावी, दादर, माहिम में लगेगा विशेष कैंप

मुंबई. कोरोना (Corona) को लेकर पूरी दुनिया में चर्चा का विषय बन चुके धारावी (Dharavi) में अब कोरोना नियंत्रित हो गया है. जी उत्तर विभाग के अंतर्गत आने वाले इस क्षेत्र में कोरोना का जड़ से उन्मूलन करने के लिए अब पेट्रोल पंप (Petrol Pump) और ज्वेलरों (Jewelers) के यहां काम करने वाले कारीगरों तक का परीक्षण (Test) करने का निर्णय वॉर्ड स्तर पर लिया गया है.

मार्च से शुरु हुआ कोरोना वायरस (Corona virus)का संक्रमण दिसंबर (December) के आते-आते धीमा पड़ गया है. गणपति के बाद कोरोना का संक्रमण तेज हो गया था. दीवाली में भी कुछ ऐसी ही आशंका बीएमसी अधिकारियों को थी.  दीवाली में होने वाली भीड़ को देखते हुए बीएमसी ने सभी दुकानदारों और फेरीवालों के लिए विशेष कोरोना परीक्षण शिविर आयोजित किए थे. 

5 स्थानों पर शिविर 

अब दादर, माहिम और धारावी (Dadar, Mahim and Dharavi) के सभी पेट्रोल पंप, बेकरी, ज्वेलरी, डिपार्टमेंट स्टोर में काम करने वाले कर्मचारियों के लिए आज से विशेष कोरोना टेस्ट कैंप आयोजित किए गए हैं. यह अभियान 29 दिसंबर तक शुरु रहने की जानकारी बीएमसी अधिकारियों ने दी है. इस क्षेत्र में कुल 5 स्थानों पर शिविर लगाए गए हैं जहां परीक्षण का काम चल रहा है.

 अब घट रही है कोरोना मरीजों  की संख्या

कोरोना पर अंकुश लगाने के लिए मुंबई महानगरपालिका  (Mumbai Municipal Corporation) ने ‘चेस द वायरस’ और  मिशन जीरो’ के तहत अभियान चला कर कोरोना पर नियंत्रण करने की तरफ कदम बढ़ाया था. उसके बाद  राज्य सरकार  की तरफ से ‘मेरा परिवार, मेरी जिम्मेदारी ’ (My Family, My Responsibility) अभियान शुरु किया गया. एशिया के सबसे बड़े स्लम और घनी आबादी वाले धारावी सहित दादर, माहिम में कोरोना मरीजों  की संख्या अब घट रही है.  हालांकि बीएमसी अधिकारी यह  सुनिश्चित करने की कोशिश कर रहे हैं  कि एक भी संदिग्ध रोगी न बचें. स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि इसके तहत पेट्रोल पंप, बेकरी, आभूषण निर्माताओं और डिपार्टमेंट स्टोर के कर्मचारियों के लिए शिविरों का आयोजन किया जा रहा है.

मेट्रो-3 कर्मचारियों की कोरोना जांच

अधिकारी के अनुसार, जी/उत्तर के दादर, माहिम में  मेट्रो-3 (Metro-3) का निर्माण कार्य चल रहा है. इस परियोजना में लगे कर्मचारी दिन-रात काम कर रहे हैं इसलिए बीएमसी (BMC) ने मुंबई के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले इन कर्मचारियों की भी कोरोना जांच करने का निर्णय लिया है.  मेट्रो कर्मचारियों की कोरोना जांच करने के लिए 26 दिसंबर को शीतलादेवी मंदिर के सामने एक विशेष शिविर का आयोजन किया गया है. जिसमें एंटीजन और आरटी-पीसीआर दोनों  जांच की जाएगी. 

धारावी में कोरोना के दैनिक मरीजों की संख्या सिंगल डिजिट में आ गई थी, लेकिन शुक्रवार को धारावी में कोरोना के एक भी मरीज नहीं मिले. विगत 8 महीने में पहली बार धारावी में एक भी कोरोना के मरीज नहीं मिलने से हमारे प्रयासों को बल मिला है. धारावी में 3 हजार 788 मरीज पाए गए हैं और अब तक 3 हजार 460 मरीज कोरोना से मुक्त हो चुके हैं, जबकि सक्रिय मरीजों की संख्या केवल 12 रह गई है.

-किरण दिघावकर, सहायक आयुक्त, जी दक्षिण विभाग