Search of 4093 passengers come from UK continues

मुंबई. ब्रिटेन (Britain) में कोरोना वायरस (Corona virus) (स्ट्रेन -2) ने पूरी दुनिया में खलबली मचा दी है. 25 नवंबर से लेकर अब तक ब्रिटेन से मुंबई आए 4,093 यात्रियों की बीएमसी (‍BMC) का स्वास्थ्य विभाग खोज कर रहा है. एयरपोर्ट एथॉरिटी के पास उपलब्ध इन यात्रियों के फोन नंबरों और पते पर जाकर तलाश की जा रही है जिससे उनकी जांच कर नए स्ट्रेन का पता लगाया जा सके. अब तक 1000 यात्रियों को खोजने में बीएमसी को सफलता मिली है.

बीएमसी के अधिकारी ने बताया कि ब्रिटेन में कोरोना वायरस के एक नए वायरस की खोज के लिए दुनिया भर की स्वास्थ्य प्रणालियों को सतर्क किया गया है. इसी संदर्भ में केंद्र सरकार के स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के साथ ही महाराष्ट्र सरकार ने भी दिशा-निर्देश जारी किए गए हैं. इस नए स्ट्रेन को रोकने के लिए मुंबई महानगरपालिका ने (Mumbai Municipal Corporation) ब्रिटेन से आने वाले यात्रियों की खोज कर रही है.  

2 हजार कमरे आरक्षित

बीएमसी की तरफ से एयरपोर्ट पर भी विशेष सावधानी बरती जा रही है. बीएमसी  विदेशी यात्रियों की जांच पर बल दे रही है. मुंबई के विभिन्न होटलों में 7 दिनों के लिए उन्हें अलग रखने के लिए 2 हजार कमरे आरक्षित किए गए हैं. प्रशासन फिलहाल उन यात्रियों की तलाश कर रहा है जो एक महीने पहले यूके (UK) से आए थे. एयरपोर्ट अथॉरिटी ने हाल ही में मुंबई आए यात्रियों की 2 सूची महानगरपालिका को सौंपी है. पहली सूची में 1,793 यात्री और दूसरी सूची में 2,300 यात्री  कुल 4,200 प्रवासी मुंबई और उपनगरों  में पहुंचे हैं. इन यात्रियों से उनके नाम, पते और संपर्क नंबर से संपर्क किया जा रहा है.  

बीएमसी की स्वास्थ्य टीम ने यात्रियों के खोजने का काम शुरू कर दिया है. विदेश से आए यात्रियों को श्रेणीबद्ध किया गया है और सूची स्थानीय वॉर्ड कार्यालयों को भेज दी गई है. सहायक आयुक्त को संबंधित यात्रियों के निरीक्षण की जिम्मेदारी सौंपी गई है. स्वास्थ्य टीमों को निर्देश दिया गया है कि वे यात्रियों के घर जाएं और उनकी जांच करें.

-मंगला गोमरे, कार्यकारी स्वास्थ्य अधिकारी, बीएमसी