Solar lights and CCTV will be installed in the deserted places of Aarey Colony

    मुंबई. आरे कॉलोनी (Aarey Colony) की बस्तियों में तेंदुए (Leopard) के बढ़ते हमले को लेकर भय का वातावरण है। तेंदुओं को मानवी बस्ती में आने से रोकने, महिला सुरक्षा और स्वच्छता को लेकर सोमवार को आरे पुलिस थाने (Aarey Police Station) में विधायक रविंद्र वायकर (MLA Ravindra Vaykar) की अध्यक्षता में बैठक हुई। जिसमें आरे के निर्जन स्थलों पर सोलर लाइट (Solar Light) और सीसीटीवी (CCTV)लगाने, मुख्य सड़कों पर जल्द ही लाइटिंग की व्यवस्था करने का निर्णय लिया गया। 

     आरे पुलिस थाने में हुई संयुक्त बैठक में मनपा पी- दक्षिण विभाग के सहायक आयुक्त संतोष कुमार धोंडे, आरे प्रशासन के मुख्याधिकारी राजेद्र राऊत, वनविभाग के अधिकारी देसाई, रामेश्‍वरी बोंगाले, दिनेश देसले,आरे पुलिस थाने की वरिष्ठ निरीक्षक ज्योती देसाई,  बीएमसी घनकचरा विभाग के अधिकारी संदीप मयेकर, अदानी इलेक्ट्रिक कंपनी  महाव्यवस्थापक सुनिल दलवी, विनोद आचरेकर, शिवसेना महिला संगठक शालिनी सावंत, उपविभागप्रमुख जितेंद्र वलवी, उपविभाग संघटक मयुरी रेवाले सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

    सोलर लाइट लगाई जाएगी

    पूर्व मंत्री और स्थानीय विधायक रविंद्र वायकर ने कहा कि आरे कॉलोनी की मानवी बस्तियों में तेंदुए का घूमना फिरना बंद होना चाहिए। इसके लिए तुरंत उपाय योजना करने की जरुरत है। उन्होंने कहा इसके लिए सेंसर या सायरन की जरुरत हो तो उस तरह की व्यवस्था की जानी चाहिए। बैठक  में यह जानकारी दी गयी कि महिलाओं की सुरक्षा को लेकर निर्जन स्थलों पर सोलर लाइट लगायी जाएगी। आरे कॉलोनी में पीने के पानी का कनेक्शन दिया जाएगा। बिरसा मुंडा चौक पर हाईमास्ट लगाया जाएगा।  वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक ज्योती देसाई ने कहा कि आरे कॉलोनी में वन विभाग की स्थायी चौकी स्थापित की जानी चाहिए।