fine

    मुंबई: पश्चिम रेलवे (Western Railway) पर अनियमित यात्रा के खिलाफ अभियान चलाकर एक माह में रिकॉर्ड दंड वसूली (Record Penalty Recovery) की गई है। सीपीआरओ सुमित ठाकुर के अनुसार, अप्रैल माह में  लगभग 2,100 टिकट जांच (Ticket Check) कर्मचारियों की मदद से चलाए गए जांच अभियानों से पश्चिम रेलवे को दंड राशि के रूप में 21.82 करोड़ रुपए प्राप्‍त हुए, जो पिछले 5 वर्षों में रिकॉर्ड है। 

    अप्रैल, 2022 में बिना बुक किए सामान के मामलों सहित बिना टिकट, अनियमित यात्रा के लगभग 3.10 लाख मामलों का पता चला, जिनसे 21.82 करोड़ रुपए की वसूली हुई। अप्रैल, 2022 के महीने के दौरान 183 भिखारियों को और 99 अनधिकृत फेरीवालों को भी पकड़ा गया।

    एजेंटों के खिलाफ भी हुई कार्रवाई

    अप्रैल, 2022 में एजेंटों और अन्य असामाजिक तत्वों के खिलाफ जांच में 217 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया। रेलवे अधिनियम 1989 की विभिन्न धाराओं के तहत उन पर मुकदमा चलाकर और कोर्ट फाइन के रूप में 24,800 रुपए की वसूली की गई।