Pimpri-Chinchwad Police

    नागपुर. पुणे की महाराष्ट्र इंटेलिजेंस अकादमी में ट्रेनिंग के लिए गए सिटी पुलिस के 12 कर्मचारी कोविड पॉजिटिव पाए गए. इनमें 1 महिला कर्मचारी भी है. एहतियात के तौर पर सभी को एमएलए होस्टल में क्वारंटाइन किया गया है. शहर के सभी 33 पुलिस थानों में 1 खुफिया विभाग होता है. यहां 2 कर्मचारी काम करते हैं.

    हर वर्ष इन कर्मचारियों के लिए पुणे की इंटेलिजेंस अकादमी में रिफ्रेशर कोर्स आयोजित किया जाता है. 30 अगस्त से 9 सितंबर के बीच राज्यभर के पुलिस दलों से कर्मचारी इस ट्रेनिंग कोर्स में हिस्सा लेने पहुंचे थे. शहर के भी 33 थानों से 33 कर्मचारियों को प्रशिक्षण के लिए भेजा गया था. 10 सितंबर को सभी नागपुर लौट आए. 

    2 कर्मचारियों को दिखाई दिए लक्षण

    वापस लौटने के बाद 2 कर्मचारियों को सर्दी-खांसी और हलका बुखार आया. उन दोनों की ही कोविड जांच करवाई गई. दोनों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई. एहतियात के तौर पर ट्रेनिंग के लिए गए अन्य सभी कर्मचारियों से भी जांच करवाने को कहा गया. एंटीजन टेस्ट में और 10 कर्मचारी पॉजिटिव पाए गए. तुरंत उन्हें दवाएं उपलब्ध करवाई गईं.

    पॉजिटिव पाए गए सभी 12 कर्मचारियों को एमएलए होस्टल में क्वारंटाइन किया गया. अन्य कर्मचारियों को भी सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए हैं. पुलिस अस्पताल के डॉक्टर संदीप शिंदे ने बताया कि केवल 2 कर्मचारियों को कुछ लक्षण दिखाई दे रहे हैं. 

    10 पूरी तरह स्वस्थ

    अन्य 10 कर्मचारी पूरी तरह स्वस्थ हैं. संक्रमण न फैले इसीलिए सभी को क्वारंटाइन रहने की सलाह दी गई है. इसी बीच पुलिस विभाग में कोरोना का खतरा बढ़ने का अनुमान लगाया जा रहा है लेकिन अधिकारियों का कहना है कि अधिकांश लोगों ने ट्रेनिंग से लौटने के बाद ड्यूटी ज्वाइन नहीं की थी लेकिन परिवार के लोगों को परेशानी हो सकती है.

    इसीलिए सभी को दवाएं उपलब्ध करवाई गई हैं. फ्रंट लाइन वर्कर होने के नाते सभी पुलिसकर्मियों को वैक्सीन के दोनों डोज दिए जा चुके हैं. केवल 1 कर्मचारी ने एलर्जिक होने के कारण वैक्सिन नहीं ली थी. वैक्सिन की वजह से ही संक्रमित होने के बावजूद उनमें कोरोना के लक्षण कम हैं.