fraud
Representative Photo

    नागपुर. एक बड़ी कम्पनी में इंजीनियर के पद पर कार्यरत व्यक्ति को एसीडीटी से छुटकारा देने वाले तेल के नाम पर 15 लाख रुपये की धोखाधड़ी का मामला सोनेगांव थाने में दर्ज किया गया. आरोपियों के नाम जेन केल्विन, अंजली शर्मा, रंजन शर्मा, बोरिस ब्राउन व कॉलिन एंथनी बताये गये. सोनेगांव थाना क्षेत्र में महेन्द्रा ब्लूमडेल बिल्डिंग निवासी संजय कुमार पवन कुमार ठाकुर (54) पेशे से इंजीनियर हैं और खापरी स्थिति एक कम्पनी में नौकरी करते हैं.

    फरवरी में वाट्सएप पर उन्हें किसी अज्ञात नंबर से मैसेज मिला कि एसीडीटी से परेशान लोगों के लिए एक विशेष प्रकार का तेल बनाया गया है. इसके उपयोग से यह बीमारी हमेशा के लिए समाप्त हो जाती है. इसके व्यापार के लिए वे तेल उपलब्ध करा देंगे जिससे बहुत जल्दी अधिक से अधिक फायदा होगा. संजय आरोपियों के झांसे में आ गये.

    उन्होंने आरोपियों के कहने पर 10 फरवरी 2021 से 12 सितंबर 2021 तक 15 लाख रुपये उनके खाते में भेज दिये लेकिन उन्हें ऐसा कोई तेल नहीं मिला. अपने साथ हुई धोखाधड़ी का पता चलते ही उन्होंने पुलिस को सूचित किया. पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी.