Two sub-inspector line spot charged for assault with youth
File Photo

    नागपुर. पुलिस विभाग में कोरोना का संक्रमण तेजी से फैल रहा है. रोजाना 25 से 30 लोग पॉजिटिव आ रहे हैं. ऐसे में अधिकारियों की चिंता भी बढ़ गई है. पिछले 10 से 12 दिनों में 413 पुलिसकर्मी कोरोना संक्रमित हो चुके है. गुरुवार को कोविड पॉजिटिव पाए गए अधिकारी और कर्मचारियों की संख्या 42 रही. 15 जनवरी तक यह आंकड़ा 169 पर था लेकिन पिछले 5 दिनों में वायरस ने तेजी से पैर पसारे हैं. इस दौरान 240 से ज्यादा पुलिसकर्मी पॉजिटिव आए है. अच्छी बात ये है कि इनमें से अधिकांश स्वस्थ है. कुछ लोगों केवल सर्दी-खांसी और मामूली बुखार लक्षण है लेकिन एहतियात के तौर पर सभी को होम क्वारंटाइन किया गया है.

    शहर में पुलिस बल की संख्या लगभग 8,000 के करीब है. ऐसे में 400 से ज्यादा पुलिसकर्मियों के संक्रमित होना मतलब 5 प्रश पुलिसकर्मी प्रभावित है. कोरोना की पहली लहर में 1,830 पुलिस अधिकारी और कर्मचारी संक्रमित हुए थे. उस समय वायरस का प्रभाव भी अधिक था और न वैक्सीनेशन शुरू हुआ था. पहली लहर में 28 पुलिसकर्मियों की कोरोना से जान गई थी. दूसरी लहर आते-आते इमरजेंसी सेवाओं में काम करने वालों के लिए वैक्सीनेशन शुरू हो गया था.

    दूसरी लहर में 630 पुलिसकर्मी संक्रमित हुए थे और 4 लोगों की मौत हुई थी. अब तक विभाग के 98 प्रश कर्मचारियों को वैक्सीन की दोनों डोजेज दी जा चुकी हैं. यही कारण है कि तीसरी लहर में कोरोना वायरस का असर भी कम हुआ है. इसी तरह विभाग में संक्रमण फैलता गया तो व्यवस्था लड़खड़ा जाएगी. कोरोना काल में व्यवस्था संभालने में पुलिस विभाग की अहम भूमिका रही है.