50.93 मिलियन टन माल ढुलाई, सेंट्रल रेलवे के राजस्व में 12.83 प्रश की बढ़ोतरी

    नागपुर. सेंट्रल रेलवे ने चालू वित्तीय वर्ष में माल ढुलाई के मामले में रिकॉर्ड बनाया है. अप्रैल से नवंबर 2022 की अवधि के दौरान 50.93 मिलियन टन की माल ढुलाई हुई है जो अब तक की सर्वश्रेष्ठ लोडिंग है. यह वित्त वर्ष 2021-22 की समान अवधि में 47.84 मिलियन टन की तुलना में 6.46 प्रतिशत की वृद्धि दर्शाता है. माल राजस्व के मामले में मध्य रेल ने नवंबर 2021 में 674.16 करोड़ रुपये की तुलना में नवंबर 2022 में 760.63 करोड़ रुपये राजस्व प्राप्त कर 12.83 प्रतिशत की वृद्धि हासिल की है.

    नवंबर 2021 में लोड किए गए 55 रैक की तुलना में नवंबर 2022 में मध्य रेल द्वारा ऑटोमोबाइल के 82 रैक लोड किए गए थे. नवंबर 2021 में कंटेनरों के 675 रैक की तुलना में नवंबर 2022 में मध्य रेल ने 702 रैक कंटेनर लोड किए. नवंबर 2021 में 95 रैक की तुलना में नवंबर 2022 में लोहे और स्टील के 117 रेक लोड किए गए हैं. नवंबर 2021 में लोड किए गए 176 रैक की तुलना में नवंबर 2022 में पेट्रोलियम उत्पाद के 200 रैक लोड किए गए हैं.

    127 रैक उर्वरक के लोड किए गए जबकि पिछले साल इसी महीने के दौरान 104 रैक लोड किए गए थे. नवंबर 2021 की तुलना में नागपुर मंडल ने नवंबर 2022 में बल्हारशाह से लौह अयस्क के 53 रैक लोड किए. नवंबर 2022 में मुंबई मंडल द्वारा आयातित कोयले के 38 रैक लोड किए गए. मध्य रेलवे के महाप्रबंधक अनिल कुमार लाहोटी ने कहा कि मध्य रेलवे की टीम ने अब तक की सर्वश्रेष्ठ लोडिंग हासिल की है लेकिन हमें अपने प्रयासों में कमी नहीं करनी चाहिए और लक्ष्य को पार करने की योजना बनानी चाहिए.