CRIME

    नागपुर. नेतागिरी की आड़ में अवैध तरीके से साहूकारी का व्यापार करने वाले जीरो डिग्री बार और लाउंज के संचालक तपन रमेशकुमार जायसवाल (39) के खिलाफ 1 प्रकरण में 500 पन्नों की चार्जशीट दायर की गई. क्राइम ब्रांच ने अभ्यंकरनगर निवासी राहुल दलवी (51) की शिकायत पर तपन जायसवाल और उसकी गैंग के रवि सुरेंद्र लांजेवार (34), राजीव उर्फ अन्ना दामोदर रेड्डी, प्रवी भैया कलंबे और श्रीरामनगर निवासी आशीष देवेंद्र तिवारी के खिलाफ अवैध साहूकारी, धोखाधड़ी और फिरौती मांगने सहित विविध धाराओं के तहत मामला दर्ज किया था.

    राहुल ने वर्ष 2016 में तपन से रकम उधार ली थी. इसके बदले तपन ने उनके 2 प्लॉट और कार गिरवी रखी थी. कोरे स्टैंप पेपर पर हस्ताक्षर भी लिए गए. 20 लाख रुपये के बदले 33 लाख रुपये वसूल किए. समय-समय पर आर्थिक अड़चन होने के कारण राहुल किस्त अदा नहीं कर पाए. इसके लिए तपन उनपर पेनाल्टी चढ़ाता गया.

    प्लॉट की पॉवर ऑफ अटर्नी बनाने के नाम पर डरा-धमकाकर धोखे से सेल डीड के दस्तावेजों हस्ताक्षर करवाकर दोनों प्लॉट हड़प लिए. इसके बाद भी रकम के लिए धमकाए जा रहा था. तपन ने अपनी वसूली के लिए गोलू मलिये जैसे कई अपराधियों को पाल रखा था. पुलिस की जांच में उसकी जालसाजी सामने आई.

    कई मामले हैं दर्ज

    तपन के खिलाफ यह एक मामला नहीं है. इसके अलावा 3 और मामले भी दर्ज हैं. एक प्रकरण में पुलिस पहले चार्जशीट दायर कर चुकी है. इस प्रकरण में भी पुलिस को तपन के खिलाफ कई सबूत हाथ लगे हैं. करीब 500 पन्नों की चार्जशीट कोर्ट में दायर की गई है. पहले भी कई बार तपन चर्चा में रहा है. वह भाजपा का पदाधिकारी भी था. नेताओं की धौंस जमाकर अपना काम कर रहा था. एमआईडीसी में उसका जीरो डिग्री बार है. इसका निर्माण काम भी अनियमित ढंग से किया गया था.

    पुलिस ने संबंधित विभागों के जरिए इसकी जानकारी इकट्ठा की है. पुलिस उसका अवैध निर्माण तुड़वाने की भी तैयारी में है. डीसीपी गजानन राजमाने और एसीपी बी.एन. नलावड़े के मार्गदर्शन में इंस्पेक्टर किशोर पर्वते, पीएसआई पुरुषोत्तम मोहेकर, एएसआई मोहन शाहू और सुनील कुंवर प्रकरण की जांच में जुटे है.