Action against online threats to Team India cricketers daughter after loss to Pakistan in T20 World Cup, man arrested from Hyderabad
File Photo

  • नागपुर-वर्धा महामार्ग पर वन विभाग ने की कार्रवाई

उमरेड. वन विभाग ने नागपुर-वर्धा महामार्ग के हलदगांव टोल नाका से 7 लोगों को बाघ के अपशेष ले जाते हुए गिरफ्तार किया. सूत्रों के अनुसार नागपुर के आला अफसरों की टीम को खास लोगों ने गुप्त सूचना देकर आरोपियों की पहचान बताने के साथ ही उनके सामान ले जाने के तरीके के बारे में भी बताया. वन विभाग की टीम दोपहर ही मौके पर पहुंच गई और अपना जाल फैलाया. उन्होंने जैसे ही टवेरा गाड़ी नंबर MH-44-B5152 आती दिखाई दी वैसे ही मौका देखकर सभी अफसरों ने गाड़ी पर अचानक छाप मारा.

गाड़ी में बैठे सातों आरोपियों को समझ ही नहीं आया कि उन्हें क्या करना चाहिए. वन विभाग की टीम ने सातों आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके सामान को अपने अंडर में लेकर गाड़ी को कब्जे में ले लिया. आरोपियों की पहचान यवतमाल जिले के नेर तहसील के कामतदेव निवासी प्रकाश महादेव, बाभुलगाव तहसील के वरुड, प्रकाश रामदास राऊत, वर्धा निवासी संदीप महादेव रंगारी, यवतमाल जिले के ईचोली निवासी अंकुश बाबाराव नाईकवाडे, धामणगांव तहसील के सावला निवासी विनोद शामराव मून, अंजनगांव निवासी विवेक सुरेश मिसाल, वरुड निवासी योगेश माणीक के रूप में हुई है. 

पूछताछ में अपराध कबूला

 सभी आरोपियों से वन विभाग के आला अफसरों ने कड़ी पूछताछ की जिसमें उन्होंने अपना गुनाह कुबूल कर लिया. इस कारवाई में मुख्य वन संरक्षक (प्रादेशिक) पी. कल्याण कुमार नागपुर वन विभाग उप वन संरक्षक डॉ. भरत सिंह हांडा के साथ सहायक वनसंरक्षक (जंकास-2) उमरेड नरेन्द्र चांदेवार, सहायक वन संरक्षक (जंकास-1) रामटेक संदीप गिरी, बूटीबोरी वन परिक्षेत्राधिकारी लक्ष्मण ठोकड, तवले, जाधव, शेंडे, कुलूरकर, पेडवड, चव्हाण, मारोती मुडे, महादेव शामिल थे.