Representable Photo
Representable Photo

    नागपुर. यशोधरानगर थानांतर्गत विनोबा भावेनगर इलाके में शनिवार की सुबह एक विवाहित महिला पर हुए एसिड हमले से हड़कंप मच गया. जिस समय हमला हुआ उसका ढाई वर्ष का बच्चा भी साथ था. हमले में दोनों के झुलसने की जानकारी सामने आई है. उनका उपचार मेडिकल अस्पताल में चल रहा है लेकिन पुलिस एसिड हमला होने से इनकार कर रही है. जख्मी महिला गली नंबर 1, विनोबाभावेनगर निवासी लता पुराणिक वर्मा (24) बताई गई.

    लता गृहिणी है और उनके पति पुराणिक ड्राइवर है. रविवार की सुबह पुराणिक किसी काम से बाहर गए थे. करीब 9 बजे के दौरान लता को अज्ञात व्यक्ति ने कॉल किया. उन्हें बताया कि तुम्हारे पति के अनैतिक संबंध है. उसकी जानकारी देने के लिए लता को कुंदनलाल गुप्तानगर में मिलने बुलाया. लता अपने बच्चे के साथ घर से निकली. घर के नजदीक ही दोपहिया वाहन पर सवार 2 आरोपी पीछे से आए और लता पर एसिड फेंक दिया. निशाना चूकने से लता और उनके बच्चे पर एसिड ज्यादा नहीं गिरा. दोनों के हाथ और पेट पर चोट आई. आरोपी घटनास्थल से भाग निकले.

    बताया जाता है कि हमला करने वालों ने बुरखा पहन रखा था. लता की चीख-पुकार सुनकर आस-पास खड़े लोग मदद के लिए दौड़े. महिला पर एसिड हमला होने की खबर से पुलिस के भी हाथ-पैर फूल गए. तुरंत लता को उपचार के लिए अस्पताल ले जाया गया. आलाअधिकारी भी मौके पर पहुंचे. डॉक्टरों का कहना है कि दोनों के जख्म ज्यादा गंभीर नहीं है और खतरे से बाहर है. लता पर फेंका गया ज्वलनशील पदार्थ क्या था यह पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है.

    फौरेंसिक जांच टीम ने घटनास्थल से सैंपल भी लिए है. पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है. लता का कहना है कि वह हमलावरों ने बुरखा पहन रखा था. हमले की वजह भी नहीं बता पा रही है. वैसे पुलिस सूत्रों का दावा है कि लता के पति का किसी के साथ विवाद चल रहा है. रंजिश के चलते ही लता पर हमला किया गया लेकिन कुछ स्पष्ट नहीं हो पाया है. पुलिस परिसर में लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाल रही है.