विप चुनाव के लिए प्रशासन तैयार, मतदान केन्द्र हो गए सज्ज, पसंदी सिस्टम से होगी वोटिंग

    • 560 मतदाता डालेंगे वोट
    • 03 उम्मीदवार हैं मैदान में
    • 10 दिसंबर को मतदान
    • 15 केन्द्र बनाए गए

    नागपुर. विधान परिषद की स्थानीय निकाय नागपुर सीट के लिए 10 दिसंबर को होने वाले मतदान के लिए जिला प्रशासन पूरी तरह सज्ज हो गया है. वोटिंग के लिए सिटी सहित जिलेभर में 15 मतदान केन्द्र बनाए गए हैं. जिसमें 560 मतदाता वोटिंग करेंगे. चुनाव निरीक्षक द्वारा मतदान केन्द्रों की जांच भी शुरू कर दी गई है. चुनाव निर्णय अधिकारी व जिलाधिाकरी विमला आर. और निरीक्षक डॉ. माधवी खोड़े-चवरे ने सभी केन्द्रों का दौरा कर जांच की है. नागपुर में मनपा के नगरसेवकों के मतदान करने के लिए मनपा के उपविभागीय अधिकारी कार्यालय, तहसील कार्यालय नागपुर खोली क्रमांक 2, तहसीलदार कार्यालय खोली क्रमांक 4 में वोटिंग सेंटर बनाया गया है.

    जिप सदस्यों के लिए ऐसी हैं व्यवस्था

    जिला परिषद के सदस्यों के लिए नागपुर स्थित तहसील कार्यालय खोली क्रमांक 1, नगर परिषद नरखेड़ नगरसेवकों के लिए तहसील कार्यालय नरखेड़ खोली क्रमांक 1, नगर परिषद काटोल तहसील कार्यालय खोली क्रमांक 1, नगर परिषद सावनेर व नगर परिषद खापा नगरसेवकों के लिए तहसील कार्यालय सावनेर खोली क्रमांक 1, नगरपरिषद रामटेक में तहसील कार्यालय रामटेक खोली क्रमांक 1, नगर परिषद कामठी नगर पंचायत महादुला के वोटरों के लिए तहसील कार्यालय कामठी खोली क्रमांक 1, नगर परिषद कलमेश्वर, ब्राह्मणी व नगर परिषद मोहपा के वोटरों के लिए तहसील कार्यालय कलमेश्वर खोली क्रमांक 1, नगर परिषद उमरेड के लिए तहसील कार्यालय उमरेड खोली क्रमांक 1, नगर परिषद कन्हान पिंपरी के लिए नगर परिषद कार्यालय कन्हान पिंपरी खोली क्रमांक 1, नगरपंचायत मौदा तहसील कार्यालय मौदा खोली क्रमांक 1, नगर परिषद बूटीबोरी के वोटरों के लिए नगरपरिषद कार्यालय बूटीबोरी खोली क्रमांक 1, नगर पंचायत पारशिवनी के लिए तहसील कार्यालय पारशिवनी खोली क्रमांक 1, नगर परिषद वानाडोंगरी के लिए नगरपरिषद कार्यालय वानाडोंगरी खोली क्रमांक 1 में मतदान केन्द्र बनाया गया है.

    पसंद का आंकड़ा डालना होगा

    इस चुनाव में ईवीएम मशीन का उपयोग नहीं होगा. मतपत्रिका में चुनाव अधिकारी द्वारा दिये गए जामुनी रंग के स्केच पेन का उपयोग किया जाएगा. मत पत्रिका पर इसी स्केच पेन से अपने पसंद के उम्मीदवार के नाम के सामने पसंद क्रमांक के रूप में अंक लिखना होगा. पहली पसंद है तो उस उम्मीदवार के नाम के आगे 1 अंक लिखना होगा और यह एक ही उम्मीदवार के आगे लिखना होगा. चुनाव में 3 उम्मीदवार है इसलिए पसंदी क्रमांक 3 देना आवश्यक है. मतदाताओं को किसी भी उम्मीदवार के नाम के सामने सिर्फ एक ही आंकड़ा लिखना आवश्यक है. सभी पसंदी क्रमांक सिर्फ 1, 2, 3 आंकड़ों में दर्शाना आवश्यक है. अगर शब्दों में एक, दो या तीन लिखा तो वोट अवैध हो जाएगा. पसंदी क्रम लिखना अनिवार्य है. 

    …तो अवैध हो जाएगा वोट

    मतपत्रिका में नाम लिखना, हस्ताक्षर करना, कोई भी अक्षर लिखना नहीं है अन्यथा वोट अवैध हो जाएगा. मतपत्रिका वैध ठहराने के लिए किसी भी एक उम्मीदवार के नाम के आगे 1 आंकड़ा लिखना आवश्यक है. अन्य पसंदी क्रम मात्र याचिका है और दूसरा या तीसरा पंसदी दर्शना या नहीं दर्शाना वोटर के ऊपर है लेकिन पहली पसंद पर 1 क्रमांक लिखना आवश्यक है. बताते चलें कि चुनाव के लिए 5 उम्मीदवारों के 10 आवेदन आए थे. दो उम्मीदवारों प्रफुल गुढधे पाटिल व रेवतकर ने अपने नामांकन वापस लिये. अब कांग्रेस से रविन्द्र प्रभाकर भोयर, भाजपा से चंद्रशेखर बावनकुले और निर्दलीय मंगेश देशमुख मैदान में हैं.